General News

पाकिस्तान को मेजर (रिटा.) गौरव आर्य का करारा तमाचा, कहा- ''ये कॉमेडी सर्कस में कह रहे हैं कि एक तो अंधेरा था और दिखाई नहीं दिया''

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

आज पूरे देश में जश्न का माहौल है, हर कोई खुशी मना रहा है क्योंकि आज पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की शहादत का बदला हिंदुस्तान ने ले लिया है। भारतीय वायुसेना ने अपने शौर्य और पराक्रम का परिचय देते हुए पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को पूरी तरह से तबाह और बर्बाद कर दिया है।

वहीं इस हमले को लेकर जब पाकिस्तान के हुकमारनों से सवाल किए गए तो पाक रक्षा मंत्री परवेज खट्टक और खुफिया एजेंसी आईएसआई के प्रवक्ता के बायन ने बड़ा ही अटपटा बयान दे दिया। इस अजीबोगरीब बयान पर हमारे कंसल्टिंग एडिटर मेजर (रिटा.) गौरव आर्य ने करारा जवाब दिया।

मेजर (रिटा.) गौरव आर्य ने दो टूक शब्दों में कहा कि ये लोग सोचते हैं कि सिविल ड्रेस पहन कर टाई लगाकर झूठ बोलेंगे तो हो सकता है कि लोग मान भी जाएं।

उन्होंने कहा, ''इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में आप लोगों ने बात देखी? सारे लोग बुजुर्ग.. ये लोग कौन हैं जो कि डिफेंस के बारे में इंडिया की जो एयर स्ट्राइक है उसके बारे में ब्रीफ कर रहे हैं। इसमें कोई वर्दी वाला क्यों नहीं है? अगर ये डेमोक्रेसी होती पाकिस्तान में तो मैं समझ सकता था कि कोई डिफेंस सेक्रेटरी है, कोई होम सेक्रेटरी है जो ब्रीफ कर रहा है। यहां पर तो पूरा आर्मी कंट्रोल्ड है। ये जो ब्रीफिंग है, इतने सेंसिटिव मैटर पर ये कोई वर्दी वाला क्यों नहीं दे रहा? क्योंकि उन वर्दी वालों को पता है कि झूठ बोलते वक्त हम न पकड़े जाएं। इनको भेजो सिविलियंस को आगे। पुराने जो रिटायर्ड हैं, ये सिविल ड्रेस पहन कर टाई लगाकर झूठ बोलेंगे तो हो सकता है कि लोग मान भी जाएं। हम लोग पीछे रहते हैं। ये क्या कहते हैं कि इनको रात को पता नहीं लगा कि अटैक हुआ, कितना नुकसान हुआ। ये झूठी-झूठी फोटोग्राफ दिखा रहे हैं वहां पर, हम लोगों ने वो फोटोग्राफ दिखाई हैं, जिस जगह हमने बम मारे थे।''

बता दें, पाकिस्तान का कहना है कि उनके विमान और सेना जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार थे, लेकिन अंधेरा होने के कारण वो कामयाब नहीं हो पाए। 

रक्षा मंत्री ने इमरान खान को झूठा साबित करते हुए चार बड़े खुलासे किए हैं, उन्होंने कहा, भारत हमला किया है। भारतीय सेना पाक सीमा क्षेत्र से 5 किमी अंदर आई थी। हम तैयार थे , लेकिन अंधेरे के कारण जवाब नहीं दे पाए। अभी नुकसान का आकलन नहीं किया जा सका है।

पाकिस्तान के झूठ बोलने का सिलसिला सिर्फ यहीं नहीं थमा, बौखलाए पाकिस्तान ने एक से बढ़कर एक मजाक किया। इसी क्रम में पाकिस्तानी सेना के मेजर जनरल आसिफ गफूर ने हास्यास्पद बयान देते हुए कहा कि भारतीय वायुसेना के विमान अगर पांच मिनट और रुकते तो हम मार गिरते।

इस बयान को भी आड़े हाथों लेते हुए मेजर (रिटा.) गौरव आर्य ने सीधे तौर पर कह दिया कि इस ऑर्गेनाइजेशन का नाम ISPR है, जो इनका (पाकिस्तान) मीडिया विंग है। तीनों सर्विसेज का.. झूठ बोलने के लिए इनको 1949 में पैदा किया था और ये झूठ बोलते हैं। पाकिस्तान के पास न सलाहियत है, न औकात है, न तमीज़ है। पर इनके पास सबसे बड़ा काम ये है कि इनके पास ट्रोल बैठे हैं। अटैक करो, नहीं हुआ-नहीं हुआ-नहीं हुआ, कोई आया नहीं-कोई आया नहीं.. इसको फैलाओ। ये कॉमेडी सर्कस है। ये कॉमेडी सर्कस में कह रहे हैं कि एक तो अंधेरा था। तो हमें वैसे दिखाई नहीं दिया पर अंधेरा नहीं भी होता तो अगली बार आकर दिखाओ फिर देख लेंगे। ये इन्होंने बोला है लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि हम अगली बार आएंगे और यही जनरल गफ्फूर वहीं बैठे रहेंगे और कहेंगे कि फिर अगली बार आओ।

इसे भी पढ़ें - VIDEO : भारत की एयर स्ट्राइक पर पाक के रक्षा मंत्री ने दी अजीबोगरीब दलील कहा- ''अंधेरा था देख नहीं पाए''

मेजर (रिटा.) गौरव आर्य ने ये भी कहा कि आज सिर्फ एयर स्ट्राइक नहीं हुई है, आज हिंदुस्तान के अंदर होली, दीवाली, ईद, दशहरा सारे त्योहार एक साथ मनाई जा रही है।

 

DO NOT MISS