General News

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर कांग्रेस-राकांपा की बैठक जारी

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

महाराष्ट्र में सरकार गठन के बारे में विचार के लिए कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेताओं के बीच बृहस्पतिवार को यहां बैठक जारी है।

सूत्रों के अनुसार, इस बैठक में सरकार गठन से जुड़े कई मुद्दों और सत्ता साझेदारी के संदर्भ में चर्चा हो सकती है।

इस बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, जयराम रमेश और मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल हैं। राकांपा की तरफ से प्रफुल्ल पटेल, सुप्रिया सुले, अजीत पवार, जयंत पाटिल और नवाब मलिक शामिल हैं।

इससे पहले कांग्रेस की सर्वोच्च नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) ने महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार गठन के लिए आगे बढ़ने को लेकर बृहस्पतिवार को स्वीकृति प्रदान कर दी और शुक्रवार तक इस पर अंतिम निर्णय लिए जाने की संभावना है।

महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए शिवसेना के साथ गठबंधन की रूपरेखा पर विचार करने के लिए राकांपा नेताओं की इस अहम बैठक के बाद शुक्रवार को दोनों पार्टियों के नेता मुंबई में शिवसेना नेताओं के साथ मंथन कर सकते हैं जिसके बाद सरकार घटना की आधिकारिक घोषणा हो सकती है।

कांग्रेस और राकांपा के वरिष्ठ नेताओं ने बुधवार को भी मैराथन बैठक की और इसके बाद ऐलान किया था कि वे जल्द ही राज्य में शिवसेना के साथ मिलकर नयी सरकार का गठन करेंगे।

गत 24 अक्टूबर को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से सरकार गठन को लेकर लगातार असमंजस की स्थिति बनी हुई थी। चुनाव में भाजपा-शिवसेना गठबंधन को बहुमत मिला था, लेकिन ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद पर शिवसेना के दावे के बाद दोनों के रास्ते अलग हो गए।

बता दें कांग्रेस की सर्वोच्च नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) ने महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार गठन के लिए आगे बढ़ने को लेकर बृहस्पतिवार रिपीट बृहस्पतिवार को आम तौर पर सहमति प्रदान कर दी और शुक्रवार तक इस पर अंतिम निर्णय लिए जाने की संभावना है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर आज सुबह हुई सीडब्ल्यूसी की बैठक में महाराष्ट्र के राजनीतिक हालात पर चर्चा की गई।

बैठक के बाद पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि इस बैठक में कांग्रेस-राकांपा की बैठक के बारे में जानकारी दी गई है और शुक्रवार तक कोई फैसला होने की उम्मीद है।

सूत्रों ने पीटीआई-भाषा को बताया कि सीडब्ल्यूसी में शिवसेना के साथ सरकार गठन के लिए आगे बढ़ने को लेकर आम सहमति बन गई है।

सीडब्ल्यूसी की बैठक में चुनावी बॉन्ड के मुद्दे पर भी चर्चा की गई और आगे इसे राष्ट्रीय मुद्दा बनाने पर सहमति बनी।

कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेताओं की मैराथन बैठक और सोनिया गांधी से हरी झंडी मिलने के बाद दोनों पार्टियों ने बुधवार को ऐलान किया कि वह जल्द ही राज्य में शिवसेना के साथ मिलकर नयी सरकार का गठन करेंगी।

DO NOT MISS