General News

एसपी छोड़ भाजपा में शामिल हो सकती हैं जयाप्रदा, रामपुर में आजम खान के खिलाफ लड़ सकती हैं लोकसभा चुनाव

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने के साथ ही सभी पार्टियां अपने - अपने उम्मदीवरों की फ़ेहरिस्त फाइनल करने में जुट गई हैं। इस बीच खबर आ रही हैं कि जयाप्रदा एसपी छोड़ सकती हैं। और भाजपा में शामिल हो कर चुनावी मैदान में उतरने के मूड में है। कहा जा रहा है कि भाजपा में शामिल होकर जया प्रदा से रामपुर से चुनावी मैदान में उतर सकती हैं। प्रदेश पैनल में भी जया प्रदा का नाम रामपुर से लिया गया है। 

बता दें रामपुर से केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और वर्तमान सांसद नेपाल सिंह के बेटे का भी नाम चल रहा है।

उधर यह भी कयास लगाया जा रहा है कि समाजवादी पार्टी रामपुर से आजम खान को चुनावी मैदान में उतार सकती है। अगर दोनों पार्टियां जया और आजम खान का नाम फाइनल कर देती हैं तो रामपुर में एक दिलचस्प मुकाबला देखने को मिलेगा। 

याद दिला दें कि आजम खान और जयाप्रदा के बीच पुरानी अदावत है। जब अमर सिंह समाजवादी पार्टी के चाणक्य हुआ करते थे तब जयाप्रदा की पार्टी में तूती बोलती थी। जयाप्रदा 2004 से 2009 में समाजवादी पार्टी की टिकट से संसद के पटल तक पहुंची चुकी हैं। 2009 में आजम खान के विरोध के बावजूद भी मुलायम सिंह ने जया को रामपुर से चुनाव लड़वाया था।

इस दौरान आजम खान और जयाप्रदा के बीच जमकर जुवानी जंग होती रही। जहां आजम खान और उनके समर्थक जयाप्रदा के खिलाफ नाचने गाने वाली कहते थे तो वहीं जया चुनावी सभाओं में आजम को भैया कहती थीं।  जयाप्रदा चुनाव जीतने में कामयाब रही । जया प्रदा ने 2014 के चुनाव में बिजनौर से RLD के टिकट पर किस्मत आजमाया था पर वह चुनाव हार गई थीं।

यह भी पढ़े- VIDEO: आरक्षण विवाद में कूदे आजम खान, बोले- EWS कोटे के तहत मुसलमानों को मिले 5% आरक्षण . . .

यह भी पढ़े- मुलायम सिंह के बयान पर आजम खान बोले- 'बहुत दुख हुआ सुनकर, ये बयान उनसे दिलवाया गया है ' . .

DO NOT MISS