General News

#RepublicExitPoll | राजस्थान में करारी हार के बाद भी BJP लोकसभा चुनाव में कर सकती है मजबूत वापसी, इतनी सीट पर जीत का है अनुमान

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए अंतिम चरण में 59 सीटों पर वोटिंग आज शाम छह बजे खत्म हो गई। अंतिम चरण की वोटिंग खत्म होते ही एक्जिट पोल आने शुरू हो गए। रिपब्लिक मीडिया नेटवर्ट पर शाम चार बजे से एग्जिट पोल की नॉन स्टॉप कवरेज शुरू हो गई है। टीवी इतिहास में पहली बार अर्नब गोस्वामी एक साथ दो चैनल पर दो- दो एग्जिट पोल लेकर आ रहे हैं। इस एग्जिट पोल को देश के सभी 542 सीटों पर 16 लाख से अधिक वोटर्स की प्रतिक्रियाओं के आधार पर तैयार किया गया है। 

2019 लोकसभा चुनाव के बाद सबके मन में एक ही सवाल होगा कि आखिर सरकार किसकी बनेगी, क्या मोदी सरकार दोबारा सत्ता में आएगी या विपक्ष को मौका मिलेगा या फिर सियासी गुना-गणित से तीसरे मोर्चा की संभवना बनेगी। इसे लेकर रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क ने 'सी वोटर' और 'जन की बात' के साथ मिलकर आपके सामने हिंदुस्तान का सबसे सटीक सर्वे लेकर आया है ताकि आपको पता चल सके कि देश में किसकी सरकार बनेगी।

इसी क्रम में रिपब्लिक टीवी और सी वोटर के साथ मिलकर राजस्थान का ताजा मूड़ जानने की कोशिश की है। राजस्थान में लोकसभा की 25 सीटें हैं। यहां यूपीए को 3 सीट जबकि एनडीए को 22 सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं 'जन की बात' के अनुसार यूपीए को 4 सीट जबकि एनडीए को 21 सीटें मिलने का अनुमान है।

सी वोटर के सर्वे के अनुसार वोट शेयर PROJECTION:

NDA: 56.6%

UPA: 33.7%

OTHERS: 9.7% 

बता दें राजस्थान के लिए लोकसभा चुनाव 2019 के बाद वसुंधरा के लिए सबकुछ पहले जैसा आसान नहीं होगा क्योंकि पहले से ही वहां नेतृत्व को लेकर होड़ जारी है। वहीं पार्टी की जीत के बाद राजे 'इन-हाउस' बहुत ताकतवर होकर उभरेंगी, जिससे बहुत सारे समीकरण बदलेंगे। वहीं कांग्रेस के लिए राजस्थान में वापसी सिर्फ 2019 के लिए ही जरूरी नहीं है बल्कि इसके जरिए अशोक गहलोत और सचिन पायलट के राजनीतिक सफर का रोडमैप बनेगा। वहीं हार की स्थिति में दोनों की राज्य में राजनीतिक ताकत पर सवाल उठेंगे।

इन मुद्दों पर हुए चुनाव 

एमएसपी का न मिलना 
राजपूत फैक्टर 
राष्ट्रीय मुद्दों पर जोर 
अलवर गैंगरेप

DO NOT MISS