General News

दिल्ली में किसानों के विरोध प्रदर्शन का आज दूसरा दिन, रामलीला मैदान से संसद तक मार्च कर रहे हैं किसान ..

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

दिल्ली में एक बार फिर किसान अपनी मांगों को लेकर सरकार के खिालफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. किसान अपनी फसलों के बेहतर MSP समेत कई अन्य मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. लगभग 50 हजार किसान जंतर मंतर पर इस प्रदर्शन में शामिल हुए हैं. बता दें, इस विरोध प्रदर्शन को कांग्रेस और लेफ्ट पार्टी का समर्थन प्राप्त है. बताया जा रहा है कि कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी दोपहर दो बजे इस विरोध प्रदर्शन में शामिल हो सकते हैं.

वहीं स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव ने रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए कहा कि 'हमारी दो मांगे हैं. दो कानून जो संसद में पेंडिंग हैं हम उसे पास करने की मांग करते हैं. सरकार जो MSP तय करती है उसे कभी भी अमल में नहीं लाया जाता है.' 

इसके साथ ही योगेंद्र यादव ने NDA की सरकार को किसान विरोधी पार्टी बताया है. उन्होंने कहा, 'हम संसद का घेराव नहीं करेंगे. बस एक रैली निकालेंगे. आज हमने सभी राजनीतिक पार्टियों को यहां पर आने का न्यौता दिया है.' 

बता दें, हजारों की तादाद में किसान अपनी मांगें को लेकर संसद मार्ग की ओर मार्च कर रहे हैं. इसको देखते हुए तीन हजार से अधिक पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मध्य दिल्ली और नई दिल्ली पुलिस जिलों में मार्च को देखते हुए विशेष बंदोबस्त किए गए हैं.

उन्होंने बताया कि उप-निरीक्षक रैंक तक के लगभग 850 पुलिसकर्मियों को मध्य जिले में तैनात किया गया है. उनके अलावा 12 पुलिस कंपनियां होंगी जिनमें से दो कंपनियां महिला पुलिसकर्मियां भी शामिल हैं. प्रत्येक कंपनी में 75-80 पुलिसकर्मी हैं. वहीं तमिलनाडु से आए किसानों के एक समूह ने नग्न अवस्था में विरोध प्रदर्शन करने की बात कही है. उन्होंने कहा है कि अगर उन्हें संसद नहीं जाने दिया गया तो वो नग्न अवस्था में अपनी मागों को लेकर विरोध प्रदर्शन करेंगे. 

वहीं दिल्ली स्थित पांच गुरुद्वारे किसानों की मदद में जुटे हुए हैं. भारी संख्या में स्कूली छात्र किसानों के प्रदर्शन में शामिल हो रहे हैं. बड़ी संख्या में डॉक्टर, वकील और कला जगत के लोग किसानों को अपना समर्थन दे रहे हैं. 

DO NOT MISS