General News

कोलकाता कमिश्नर राजीव कुमार का हुआ तबादला, अनुज शर्मा होंगे नए कमिश्नर

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

कोलकाता पुलिस बनाम केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के बीच छिड़े घमासान के बीच कोलकाता कमिश्नर राजीव कुमार का तबादला हो गया। इसे राजीव कुमार के लिए एक झटके के तौर पर देखा जा रहा है। राजीव कुमार को CID का क्राइन ADG बनाया गया है। 

रिपब्लिक भारत को मिली जानकारी के मुताबिक कोलकाता के पुलिस कमिश्नर के पद पर अनुज शर्मा को तैनात किया गया है। गौरतलब है कि सीबीआई ने राजीव कुमार पर शारदा चिटफंड घोटाला मामले से जुड़े इलेक्ट्रॉनिक सबूत नष्ट करने का आरोप लगाया है।

केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की याचिका पर देश की सर्वोच्च अदालत यानी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। इस मामले में कोर्ट ने कड़ा रुख अपनाते हुए राजीव कुमार को शिलॉन्ग में सीबीआई के सामने पेश होने को कहा था। जिसके बाद कुमार को लंबे वक्त तक सीबीआई के सवाल का सामना करना पड़ा।

हालांकि अदालत ने साथ ही यह भी साफ किया था राजीव की फिलहाल गिरफ्तारी नहीं होगी। इस बीच राजीव कुमार को कोलकाता पुलिस कमिश्नर के पद से हटा दिया गया है।

घमासान के बीच सुप्रीम सुनवाई में कोर्ट ने राज्य के मुख्य सचिव, डीजीपी और कोलकाता पुलिस कमिश्नर को सीबीआई की मानहानि याचिका पर नोटिस जारी किया है। मामले की अगली सुनवाई 20 फरवरी को होगी। 

गौरतलब है कि ये घमासान उस वक्त शुरू हुआ था जब सीबीआई के अधिकारी पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से कोलकाता स्थित उनके निवास पर अचानक पूछताछ के लिए पहुंचे थे। सीबीआई अधिकारियों को कोलकाता पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद एजेंसी ने उच्चतम न्यायालय का रुख किया था।

सीबीआई के इस कदम का विरोध करते हुए कोलकाता की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तीन दिन तक धरना दिया था। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर तख्तापलट का आरोप भी लगाया था।

इसे भी पढ़ें - CBI के सामने पूछताछ के लिए पेश हुए राजीव कुमार और कुणाल घोष

सीबीआई की याचिका पर पहले दिन सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि सीबीआई कोलकाता पुलिस कमिश्नर के खिलाफ सबूत लाकर दे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था अगर राजीव कुमार यदि सबूतों को मिटाने की कोशिश कर रहे हैं तो सीबीआई उनके खिलाफ सबूत लाकर दे, हम उनके खिलाफ ऐसी कार्रवाई करेंगे कि वह पछताएंगे। 

DO NOT MISS