General News

झारखंड के मुख्यमंत्री ने एक लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का दावा किया

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए गुरुवार को दावा किया कि अभी तक एक लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी गई है जिसमें से 95 फीसदी से ज्यादा लोग झारखंडवासी हैं. उन्होंने यह भी कहा कि राज्य के 32 लाख लोगों को उनकी सरकार ने चार वर्षों में रोजगार अथवा स्वरोजगार के अवसर दिए हैं.

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य के 19वें स्थापना दिवस कार्यक्रम के अवसर पर यहां यह बात कही. दास ने कहा कि एक लाख लोगों को सरकारी नौकरी देने के अलावा सखी मंडल के माध्यम से 16 लाख बहनों को स्वरोजगार, मुद्रा लोन के जरिए 14.5 लाख, कौशल विकास के जरिए 90 हजार से ज्यादा और मोमेंटम झारखंड के जरिए 50 हजार प्रत्यक्ष तथा डेढ़ लाख परोक्ष रोजगार उपलब्ध कराए गए हैं. दास ने कहा कि राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर 12 जनवरी को राज्य में निजी क्षेत्र में एक लाख रोजगार देने का लक्ष्य रखा गया है.

उन्होंने कहा कि आज विकास वृद्धि दर में झारखंड पूरे देश में दूसरे नंबर पर, कारोबार की सुगमता में चौथे नंबर पर तथा स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के मामले में पूरे देश में अव्वल स्थान पर है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज का युवा विकास चाहता है. वह किसी के बहकावे में नहीं आता है. इसलिए विकास कार्यों को लेकर हम सबकी जिम्मेदारी अब और बढ़ जाती है. उन्होंने कहा कि देवघर में एम्स और हवाई अड्डा, पतरातू बिजली संयंत्र और सिंदरी में खाद कारखाना बनने से न सिर्फ राज्य का विकास होगा बल्कि बड़ी तादाद में रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे. 

रघुवर दास ने कहा कि झारखंड देश का इकलौता ऐसा राज्य है जो प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत मिलने वाले गैस कनेक्शन के साथ चूल्हा मुफ्त देता है और पहली बार गैस भरवाने का खर्च भी सरकार उठाती है. अबतक राज्यभर में 15 लाख से ज्यादा गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं. महिलाओं को पुलिस की नियुक्ति में 33 फीसदी आरक्षण दिया गया है जिसके तहत 1131 महिलाओं को आरक्षी नियुक्त किया जा चुका है. 

इसे भी पढ़ें: अब 'नीच' वाले बयान पर उपेंद्र कुशवाहा ने बोला सुशील मोदी पर हमला, पूछा ये सवाल

DO NOT MISS