General News

जेईई मेन परीक्षा के लिये आनलाइन आवेदन करने का एनटीए ने दिया एक और मौका

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

 

राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) (मेन) 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म जमा करने के लिये एक अंतिम मौका देने का निर्णय किया है और इस उद्देश्य के लिये आवेदन फॉर्म 19 मई से 24 मई के बीच उपलब्‍ध होंगे। वहीं, जेईई (मेन) के लिये पहले आवेदन कर चुके छात्र भी 25 मई से 31 मई के बीच अपने परीक्षा केंद्र के विकल्प में बदलाव कर सकेंगे ।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एचआरडी मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने एनटीए को सलाह दी थी कि जेईई (मेन) 2020 के फॉर्म भरने के लिए छात्रों को एक अंतिम अवसर दिया जाए।

अधिकारियों ने बताया कि काफी छात्रों का विदेश में कॉलेज में जाना तय था लेकिन कोविड-19 से उत्‍पन्‍न बदली हुई परिस्थितियों के कारण अब वे देश में ही अपनी पढ़ाई को आगे बढ़ाने के इच्छुक हैं और जेईई (मेन) परीक्षा देना चाहते हैं । ऐसे छात्रों की ओर से मांग आई थी कि वे फार्म भरना चाहते हैं ।

उन्होंने बताया कि यह फैसला उन अन्य छात्रों पर भी लागू होगा जो किसी न किसी कारण से आवेदन प्रक्रिया पूरी नहीं कर पाए थे या जेईई (मेन) 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पाए हैं।

उन्होंने बताया कि ऐसे छात्रों को होने वाली कठिनाइयों के मद्देनजर राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी उन्‍हें अब एक और (अंतिम) अवसर दे रही है कि वे नए सिरे से आवेदन करें या ऑनलाइन आवेदन फॉर्म जेईई (मेन) 2020 को पूरा करें। ऑनलाइन आवेदन फॉर्म जमा करने / पूरा करने की सुविधा केवल 19 मई से 24.मई तक उपलब्ध रहेगी ।

दूसरी ओर, कोविड-19 के कारण उत्पन्न स्थिति एवं जेईई (मेन) 2020 के परीक्षार्थियों को पेश आने वाली परेशानियों के मद्देनजर राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने आनलाइन आवेदन फार्म में सुधार का एक बार फिर मौका देने का फैसला किया ताकि छात्रों को आवेदन में सुधार एवं परीक्षा केंद्रों की पसंद में बदलाव करने की सहुलियत मिल सके । यह सुविधा उन छात्रों के लिये है जो पहले ही फार्म भर चुके हैं ।

अधिकारियों ने बताया कि इस उद्देश्य के लिये जेईई (मेन) के लिये आनलाइन फार्म में सुधार की सुविधा 25 मई से 31 मई तक उपलब्ध रहेगी ।

उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के मद्देनजर काफी छात्र यह मांग कर रहे थे कि वे परीक्षा केंद्र के विकल्प में बदलाव करना चाहते हैं और इन्हीं मांगों को देखते हुए राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने जेईई (मेन) के लिये आनलाइन फार्म में परीक्षा केंद्र के विकल्प एवं अन्य सुधार करने का मौका देने का फैसला किया है ।

राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) के प्रपत्र के मुताबकि, एजेंसी छात्रों द्वारा आवेदन फार्म में चुने गए परीक्षा केंद्रों के क्रम के अनुसार उन्हें केंद्र (शहर) उपलब्ध कराने का पूरा प्रयास करेगी जो उस शहर में उपलब्ध क्षमता पर भी निर्भर करेगा । हालांकि प्रशासनिक कारणों से दूसरा शहर भी आवंटित किया जा सकता है तथा परीक्षा केंद्र के आवंटन को लेकर एनटीए का फैसला अंतिम होगा ।

वहीं, सीबीएसई की 10वीं एवं 12वीं कक्षा की लंबित परीक्षा देने के लिये छात्रों को उन केंद्रों पर उपस्थित होना होगा जहां से उन्होंने पंजीकरण कराया है और यह किसी बाह्य केंद्र पर नहीं होगी । मानव संसाधन विकास मंत्रालय से यह जानकारी दी ।

मंत्रालय जुलाई के अंत तक परीक्षा परिणाम घोषित करने की योजना बना रहा है । इस दिशा में लॉकडाउन की घोषणा होने से पहले जिन विषयों की परीक्षाएं हो गई थी, उनके मूल्यांकन की प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है ।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के अधिकारियों ने बताया कि छात्रों को अपने अपने स्कूल में उपस्थित होना होगा और किसी बाह्य केंद्र पर नहीं ।