General News

बॉर्डर पर PAK को भारतीय सेना का करारा जवाब, जम्मू के केरन सेक्टर में पाक सेना के सात कमांडो ढेर

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

बीते बुधवार से, भारतीय सेनाओं ने जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा के केरन में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) के सात सदस्यों को मार दिया है।

वे सेना के एक फॉरवर्ड पोस्ट में भारतीय सैनिकों पर हमला करने की कोशिश कर रहे थे। हमलावरों में आतंकवादी और पाकिस्तान सेना के सैनिक शामिल थे। वे बड़ी मात्रा में हथियारों ले जा रहे थे, लेकिन वे हमला करने से पहले ही भारतीय बलों ने उन्हें मारे गए गिराया।

बता दें, पाकिस्तान की तरफ से लगातार उकसाने वाली एकतरफा फायरिंग को रही है, लेकिन भारतीय सेना भी पाक की इस नापाक करतूत का मुंहतोड़ जवाब दे रही है। हाल ही में भारतीय सेना ने एक बड़ी साजिश को नाकाम किया था।  सेना ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान में बैठे आतंकवादी, कश्मीर घाटी में अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने की साजिश रच रहे हैं लेकिन सुरक्षा बल इस तरह की किसी भी साजिश को विफल करने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद हैं।

सेना की 15वीं कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने यह बयान ऐसे समय दिया है जब बीते कुछ दिन में सुरक्षा बलों की छापेमारी में अमरनाथ यात्रा मार्ग पर पाकिस्तान में बनी बारूदी सुरंग और भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं।

कोर कमांडर ने कहा कि पाकिस्तान और उसकी सेना कश्मीर घाटी में शांति बाधित करने की पूरी कोशिश में है।

ढिल्लों ने जम्मू कश्मीर के पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह के साथ यहां संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘बीते तीन से चार दिन में, हमें स्पष्ट और पुष्ट खुफिया जानकारी मिल रही थी कि पाकिस्तान के आतंकवादी और पाकिस्ताऩी सेना यहां जारी श्री अमरनाथजी यात्रा को निशाना बनाने का प्रयास कर रही है।’’ 

ढिल्लों ने कहा कि सुरक्षा बलों की संयुक्त टीमों ने पवित्र गुफा की तरफ जाने वाले बालटाल और पहलगाम मार्गों पर छानबीन की और बीते तीन दिन से जारी अभियान में हथियार, गोलियां और विस्फोटक सामग्री जब्त की।

उन्होंने कहा, ‘‘हमें छानबीन में कुछ बड़ी सफलताएं मिलीं। कुछ आईईडी बरामद हुए जिन्हें निष्क्रिय किया गया है। छानबीन में एक अमेरिकी एम 24 राइफल के अलावा जवानों को निशाना बनाने वाली बारूदी सुरंग मिली है जिस पर पाकिस्तान आयुध फैक्ट्री का ठप्पा लगा है, जो स्पष्ट रूप से बताता है कि पाकिस्तान कश्मीर में आतंकवाद में शामिल है।’’ 

DO NOT MISS