(Source: AP)
(Source: AP)

General News

भारत ने पाक के एफ-16 लड़ाकू विमानों के इस्तेमाल के साक्ष्य अमेरिका को सौंपे

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

पाकिस्तान द्वारा भारत के सैन्य प्रतिष्ठानों पर 27 फरवरी को हुये असफल हमले में अमेरिकी एफ-16 विमानों और एमराम मिसाइल का प्रयोग करने के साक्ष्य अमेरिका को सौंप दिये गए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि भारत इस बात को लेकर निश्चिंत है कि वाशिंगटन इस मामले की तह तक जायेगा कि पाकिस्तान ने इस अमेरिका निर्मित लड़ाकू विमान के साथ ही हवा से हवा में मार करने वाली एमराम मिसाइल का इस विमान से भारत के खिलाफ प्रयोग किया है।

भारतीय वायुसेना ने 28 फरवरी को एमराम मिसाइल के अवशेषों को बतौर साक्ष्य प्रस्तुत किया था। इस दौरान बताया गया कि पाकिस्तान के पास एफ-16 के अलावा ऐसे कोई दूसरे लड़ाकू विमान नहीं हैं जो इस मिसाइल को दाग सकें।

पाकिस्तान पहले ही कह चुका है कि उसने भारत के खिलाफ हवाई हमले में एफ-16 विमानों का प्रयोग नहीं किया।

वाशिंगटन- अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा है कि पाकिस्तान द्वारा एफ-16 लड़ाकू विमान के गलत इस्तेमाल संबंधी रिपोर्टों पर उनका देश और जानकारियां जुटा रहा है। भारतीय वायुसेना ने बृहस्पतिवार को एएमआरएएएम के कुछ टुकड़े यह साबित करने के लिए उन साक्ष्यों के तौर पर दिखाए थे कि पाकिस्तान ने अमेरिका निर्मित एफ-16 लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल कश्मीर में भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों पर हवाई हमले के लिए किया था।

दरअसल पाकिस्तान ने बुधवार को दावा किया था कि किसी एफ-16 लड़ाकू विमान का इस्तेमाल नहीं किया गया और उसने साथ ही इस बात से भी इनकार किया था कि भारतीय वायुसेना ने उसके एक विमान को मार गिराया है।

अमेरिका अत्याधुनिक रक्षा साजो सामान बेचने वाला विश्व का सबसे बड़ा देश है और इसके पास मजबूत एंड यूजर निगरानी समझौता है, जो रक्षा साजो सामान के दुरुपयोग के किसी भी आरोप को बेहद गंभीरता से लेता है। 

पेंटागन की डिफेंस सिक्योरिटी एंड कॉरपोरेशन एजेंसी (डीएससीए) के अनुसार एफ-16 विमान आतंकवाद निरोधक अभियानों में पाकिस्तान की क्षमता को बढ़ाने के लिए हैं। सार्वजनिक रूप से उपलब्ध दस्तावेजों के अनुसार अमेरिका ने पाकिस्तान पर एफ-16 विमानों के इस्तेमाल को लेकर लगभग 12 पाबंदियां लगाईं हैं।

बता दें पाकिस्तान ब्यूरोक्रेटस ने ट्वीट कर कहा कि भारतीय वायुसेना की ओर से मारे गिराए गए F-16 फाइटर प्लेन की निर्माता कंपनी लाकहीड मार्टिन भारत के खिलाफ मुकदमा करेगी। पाकिस्तानी ब्यूरोक्रेट्स दान्याल ने कहा है कि भारत का दावा झूठा है कि उसने पाकिस्तान के  F-16 को मार गिराया था। 

पाकिस्तान के दावे को खारिज करते हुए F-16 बनाने वाली कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने पाक को लताड़ लगाई। लाकहीड मार्टिन ने गिलानी की तरफ से किए गए वादे को सरासर गलत बताया। लॉकहीड के इस बयान के बाद गिलानी ने अपने ट्वविटर से ये ट्वीट डिलीट कर दिया । 

(इनपुट- भाषा)

DO NOT MISS