General News

शर्मनाक : पाक सेना प्रमुख जनरल बाजवा के इशारे पर कठपुतली की तरह इमरान खान चीनी PM के पीछे चल पड़े

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

तख्तापलट की अटकलों के बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सेना की कठपुतली बन गए है। इसका एक प्रमाण इमरान के चीन यात्रा के दौरान नजर आया।  दरअसल, चीन पुहंचे इमरान खान प्रोटोकॉल के तहत अपने अधिकारियों और कारोबारियों के दल को चाइना के प्रधानमंत्री से मिलवा रहे थे। इस दौरान पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने इमरान खान को चीन के पीएम के साथ चलने को कहा।  जावेद बाजवा का इशारा देखते ही इमरान कठपुतली की तरह चीनी पीएम के पीछे चल पड़े।

मंगलवार को चीन दौरे पर पहुंचे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बीजिंग में चीन के शीर्ष नेताओं के साथ बैठक की। इस दौरान बाजवा भी उनके साथ मौजूद थे। इसके बाद पाक सेना प्रमुख जनरल बाजवा ने प्रधानमंत्री इमरान खान को चीन के प्रधानमंत्री ली कियांग को पाकिस्तान से आए नेताओं और कारोबारियों के दल से मिलवाने का इशारा किया। 

दरअसल, चीन आए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ नेताओं और कारिबारियों का एक दल भी है।  जिनसे मिलने के समय पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने चीनी प्रधानमंत्री को अकेला छोड़ दिया। जिसके बाद पाकिस्तान के आर्मी चिफ जनरल बाजवा ने इशारे में इमरान को चीनी पीएम के साथ जाने का इशारा किया।  इसके बाद इमरान खान भी कठपुतली की तरह बाजवा की बातों पर अमल करते नजर आए। 

बता दें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने के बाद इमरान खान का यह तीसरा चीनी दौरा है। उनके साथ विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, रेल मंत्री शेख रशीद, योजना मंत्री खुसरो बख्तियार और वित्त सलाहकार हफीज शेख चीन दौरे पर साथ गए हैं।

इमरान खान दो दिन के दौरे पर चीन पहुंचे है लेकिन उनकी कुर्सी पर खतरा मंडरा रहा है। जानकारी के अनुसार पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल बाजवा इमरान खान का तख्ता पलट करने के फिराक में हैं। यहीं वजह रही कि इमरान खान से पहले जनरल कमज जावेद बाजवा खुद चीन पहुंच गए। हांलाकी दोनों को एक साथ चीन जाना था लेकिन बाजवा ने अपना प्लान बदल दिया। इमरान से पहले बाजवा के चीन पहुचंने की खबर पाकिस्तान में भी सुर्खियां बन गई । चीन दौरे पर प्रधानमंत्री इमरान से पहले सेना प्रमुख का पहुंचना और बड़े नेताओं से मिलने के बाद ऐसी चर्चा है कि पाकिस्तान में इमरान खान की तख्ता पलट करने की तैयारी चल रही है। इससे पहले 3 अक्टूबर को बाजवा सेना मुख्यालय में पाकिस्तान के बड़े कारोबारियों से भी मिल चुके हैं। 

इधर कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का सबसे भरोसेमंद देश चीन ने भी साथ छोड़ दिया है।  चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के भारत दौरे से पहले इमरान खान की बीजिंग यात्रा और कश्मीर मुद्दे के सवाल पर चीन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा कि चीन यह मानता है कि कश्मीर मुद्दे को भारत और पाकिस्तान के बीच हल किया जाना चाहिए।  
 

DO NOT MISS