General News

दिल्ली हयात मामला: पूर्व BSP सांसद के बेटे आशीष पांडेय को मिली जमानत

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार को पूर्व बसपा सांसद के बेटे आशीष पांडेय को पांच सितारा होटल हयात में बंदूक लहराने के मामले में जमानत दे दी है. मेट्रोपोलिटियन मजिस्ट्रेट धर्मेंद्र सिंह ने पांडे को 50 हजार रुपए का निजी मुचलका और इतनी ही राशि के जमानती पेश करने पर जमानत दी.

दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को पांडेय के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया था. पांडे ने पांच सितारा होटल हयात में कथित तौर पर एक महिला और उसके दोस्त को पिस्तौल दिखाकर धमकाया था. घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था.

घटना 14 अक्टूबर को हुई थी और इसका वीडियो वायरल होने के बाद लोगों में गुस्सा भड़क गया. इसके बाद ही पुलिस ने आरोपी तलाश शुरू की जो घटना के बाद से ही फरार था. वहीं पुलिस को सरेंडर करने से पहले आशीष ने एक वीडियो जारी करते हुए अपने ऊपर लगे तमाम आरोपों का पर जवाब दिया था.

आशीष पांडेय ने अपना वीडियो जारी करते हुए कहा था कि ''मैं आशीष पांडेय.. आप मुझे पहचान रहे होगें पिछले चार दिनों से .. मेरे ऊपर मीडिया ट्रायल चल रहा है.. पूरे देश में ऐसा लग रहा है कि मैं कोई आतंकवादी हूं..और पूरे देश की पुलिस मुझे खोज रही है..मेरे लिए लुकआउट सर्कुलर जारी किया गया है. मैं इस बात को नकार नहीं रहा हूं कि उस रात को ये घटना हुई थी.. मुझे इसकी जानकारी दो-तीन दिन बाद पता चली जब वीडियो वायरल हुआ..लेकिन उस घटना को सिर्फ एक पक्ष के समर्थन में ही दिखाया जा रहा है.''

इसके साथ ही पांडेय ने कहा था कि ''मैं ये मानता हूं की मैं गाड़ी से अपनी लाइसेंस वाली बंदूक लेकर उतरा .. मैंने न तो उस वेपन को उस पर ताना है न तो उसे दिखाया है.. वेपन मेरे पीछे साइड में था.. आप लोग बोल रहे हैं कि मैंने उस लड़की से अभद्रता की .. पिस्तौल दिखाई उसको धमकी दी..''

इसे भी पढ़ें: हाथ में पिस्तौल लेकर गुंडागर्दी करते हुए पूर्व BSP सांसद के बेटे का VIRAL वीडियो

वहीं पीड़ित शख्स ने रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए कहा था कि, 'मैं अपनी दोस्त के साथ होटल हयात में खाना खाने गया था.. हमने सूप ऑर्डर किया था.. मेरी दोस्त की तबीयत ठीक नहीं थी. वो बाथरूम गई थी.. मैं बाहर खड़ा था..उसके बाद तीन लड़कियां अंदर गई..और वो जोर-जोर से गालियां देने लगी.. मैंने तुरंत होलट के स्टॉफ को बुलाया..और कहा कि मेरी दोस्त अंदर है.. वो ठीक नहीं है उसे बाहर निकालो.. इतने में इन लड़कियों ने चिल्लाना शुरू कर दिया. मुझे नहीं पता कि उन्होंने ऐसा क्यों किया.. वो मेरी दोस्त को परेशान करना चाहते थे. उन लड़कियों ने बुरी तरह से शराब पी रखी थी. वो नाइट क्लब से आईं थी. चार लड़के आए और उन्होंने उनको ज्वाइन किया.. उन्होंने मुझे गालियां दी..''

DO NOT MISS