General News

मुकेश अंबानी की मदद से अनिल अंबानी ने चुकाया एरिक्सन का बकाया, फिर भइया-भाभी को बोला- धन्यवाद

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्यूनिकेशन ने एरिक्सन इंडिया के 458 ।77 करोड़ रुपये चुका दिए । बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने रिलायंस कम्यूनिकेशन को चेताते हुए कहा था कि अगर उन्होंने एरिक्सन इंडिया के पैसे नहीं चुकाए तो उनके साथ कोर्ट की अवमानना के चलते अनिल और कंपनी के दो डायरेक्टरों को जेल जाना पड़ सकता है ।

लेकिन बड़े भाई और दुनिया के सबसे अमीर भारतीय मुकेश अंबानी ने मदद का हाथ आगे बढ़ते हुए बकाया पैसे देने में मदद की । एरिक्शन के 550 करोड़ रुपये की बकाया देनदारी का भुगतान करने के बाद कर्ज बोझ से दबी रिलायंस कम्युनिकेशंस के चेयरमैन अनिल अंबानी ने बड़े भाई मुकेश अंबानी और भाभी नीता अंबानी को धन्यवाद दिया ।

अनिल अंबानी ने बयान जारी करते हुए कहा कि मैं अपने भैया-भाभी मुकेश और नीता अंबानी का तहेदिल से शुक्रिया अदा करता हूं । मुश्किल और परीक्षा की घड़ी में वो मेरे साथ खड़े रहे । उन्होंने दिखाया कि सही मायने में पारिवारिक मूल्य क्या होते हैं । मैं और मेरा परिवार उनकी इस मदद के लिए एहसानमंद और शुक्रगुजार हैं ।

एरिक्सन का कहना था कि अनिल अंबानी और रिलायंस कम्यूनिकेशन का इरादा शुरू से इसका पैसा देने का नहीं था । पहले दिन से ही कंपनी अदालत के आदेश की अवहेलना कर रही थी । एरिक्सन के वकील ने कहा कि उनके मुवक्किल की कंपनी ने रिलायंस पर विश्वास किया था । लेकिन कुछ लोग सोचते हैं वे देश के विशिष्ट लोग हैं और अदालत को बेवकूफ बना लेंगे ।

अंबानी की ओर से पक्ष रखते हुए मुकुल रोहतगी ने कहा था कि 550 करोड़ रुपये की अदायगी शर्त के साथ बंधी थी । इसके मुताबिक रिलायंस कम्यूनिकेशन की संपत्ति रिलायंस जियो इन्फोकॉम पर बेचने के बाद ही एरिक्सन को यह पैसा मिलेगा ।

(इनपुट- भाषा से भी)