General News

केरल: चंद सेकेंड में ताश के पत्‍ते की तरह ढहा दिए गए समुद्र किनारे बने आलीशान फ्लैट, देखें VIDEO

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

कोच्चि के मरदु नगरपालिका क्षेत्र में बनी चार इमारतों को ढहाने के उच्चतम न्यायालय के आदेश को अधिकारियों ने शनिवार को लागू कर दिया और नियंत्रित विस्फोट से दो अवैध अपार्टमेंट परिसरों को ध्वस्त कर दिया।

पहले अवैध परिसर ‘‘होली फेथ एच 20’’ को सुबह 11.18 बजे ढहाया गया। इसके कुछ ही मिनट बाद अल्फा सेरेने अपार्टमेंट के टावरों को ध्वस्त कर दिया गया। इनके गिराए जाने से वहां चारों तरफ धूल भर गई।

हजारों लोग इमारत ढहाये जाने के वक्त वहां मौजूद थे और इस पूरे घटनाक्रम को देखा। दोनों अपार्टमेंट में रहने वाले लोगों को आज सुबह इनके विध्वंस से कुछ घंटे पहले बाहर निकाल लिया गया था।

एर्नाकुलम जिला कलेक्टर द्वारा घोषित निषेधाज्ञा दोनों आवासीय परिसरों के निकासी क्षेत्र में सुबह 8 बजे लागू हुआ। रविवार को दो अन्य अपार्टमेंट परिसरों को ध्वस्त कर दिया जाएगा।

शीर्ष अदालत ने तटीय विनियमन क्षेत्र के मानदंडों के उल्लंघन को लेकर इन परिसरों को अवैध ठहराया था और इन्हें गिराने का आदेश दिया था।

बता दें, बीते सितंबर महीने में सुप्रीम कोर्ट ने को 138 दिन के भीतर गिराने और फ्लैट मालिकों को चार सप्ताह के भीतर 25-25 लाख रूपए अंतरिम मुआवजा देने का आदेश दिया था। 

पीठ ने कोच्चि के तटीय जोन इलाकों में गैरकानूनी इमारतों का निर्माण करने में संलिप्त बिल्डरों और प्रमोटरों की संपत्तियां जब्त करने का भी आदेश दिया था। पीठ ने कहा था कि सरकार अवैध रूप से इमारत बनाने वाले बिल्डरों और प्रमोटरों से अंतरिम मुआवजे की राशि वसूल करने पर विचार कर सकती है।
 

DO NOT MISS