General News

पलायन संकट: गुजरात सरकार की लोगों से अपील, 'मत छोड़ो गुजरात'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

गुजरात के साबरकांठा में 14 महीने की बच्ची के साथ हुए रेप के बाद से ही राज्य में उत्तर भारतीय लोगों, खासतौर पर बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है. बता दें, आरोप लगा है कि 14 महीने की बच्ची के साथ बिहार के एक शख्स ने रेप किया है. उसके बाद से ही गुजरात में उत्तर भारतीय लोगों को पीटने की घटनाएं सामने आ रही हैं. कई दिनों से लोग पलायन करके अपने-अपने राज्यों का रुख कर रहे हैं.

वहीं अब इस पूरे मामले में गुजरात के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए लोगों से गुजरात नहीं छोड़ने की अपील की है. इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि, ''बीते तीन चार दिनों में गुजरात में बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों पर हमले हुए हैं. जो लोग इन मामलों में आरोपी थे उनके खिलाफ हमने एक्शन लिया है. पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है उन लोगों से पूछताछ की जा रही है. हमने सोशल मीडिया पर झूठ फैलाने को लेकर IT एक्ट के तहत तीन केस दर्ज किए हैं.''

''हमने अभी तक इस पूरे मामले में 35 FIR दर्ज की है. पिछले 24 घंटे में लोगों पर हुए हमलों में कमी आई है. हमने लोगों से अपील की है कि वो डरे नहीं .. हम इस मामले में उचित कदम उठा रहे हैं.'' 

इसके साथ ही गृहमंत्री ने कहा कि ''जो लोग दूसरे राज्यों से आकर गुजरात में काम कर रहे हैं उन्हें सुरक्षा मुहैया करानी हमारी जिम्मेदारी है. हम केंद्र सरकार के संपर्क में भी हैं. हमने इस पूरे मामले पर एक रिपोर्ट केंद्र सरकार को सौंपी है.''

पढ़ें क्या है पूरा मामला - बच्ची से रेप मामला: ठाकोर सेना की धमकी के बाद गुजरात छोड़ने को मजबूर हुए यूपी-बिहार के लोग

गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने कहा, 'गुजरात की प्रजा ने जिनको रिजेक्ट किया है ऐसे लोग अपनी मंशा पूरी करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं. हम उन्हें नाकाम करने की कोशिश में लगे हुए हैं. एक अफवाह के कारण लोग दूसरे राज्यों का रुख कर रहे हैं.''

इसके साथ ही गुजरात सरकार ने कहा है कि इस पूरे मामले में हमने अभी तक 450 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. हम किसी भी हालत में गुजरात में समस्या पैदा नहीं होने देंगे. राज्य के DGP खुद इस मामले की जांच कर रहे हैं. किसी भी हालत में गुजरात में इस तरह के हमले नहीं होने देंगे. 

DO NOT MISS