PC-twitter
PC-twitter

General News

आंध्र प्रदेश के पूर्व विधानसभाध्यक्ष की मृत्यु, पुलिस को आत्महत्या का संदेह

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:


तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के वरिष्ठ नेता और आंध्र प्रदेश विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष कोडेला शिव प्रसाद राव की सोमवार को अस्पताल में मृत्यु हो गयी। ऐसी आशंका है कि उन्होंने आत्महत्या की है। वह 72 वर्ष के थे।

पश्चिमी जोन के पुलिस उपायुक्त एआर श्रीनिवास ने विस्तृत जानकारी दिए बगैर बताया कि प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार राव ने शायद आत्महत्या की है।

सवालों के जवाब में श्रीनिवास ने कहा, हालांकि इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम के बाद ही हो सकती है।

आंध्र प्रदेश पुलिस ने विधानसभा का फर्नीचर गलत तरीके से अपने पास रखने को लेकर पिछले ही महीने राव के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

पेशे से डॉक्टर राव के परिवार में उनकी पत्नी, दो पुत्र और एक पुत्री हैं।

उपायुक्त और अस्पताल ने बताया कि राव को सुबह करीब 11 बजे उनके आवास से बेहोशी की हालत में बसावताराकम इंडो-अमेरिकन कैंसर अस्पताल लाया गया। उन्हें होश में लाने की तमाम कोशिशों के बावजूद उनकी मृत्यु हो गयी।

उपायुक्त ने कहा, ‘‘परिवार के सदस्यों का कहना है कि पिछले कुछ दिन से वह तनाव मे थे, लेकिन किसी को उसकी वजह पता नहीं है।’’

अस्पताल की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि राव को बेहोशी की हालत में सुबह 11 बजकर 35 मिनट पर लाया गया। उन्हें होश में लाने का प्रयास किया गया।

अस्पताल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉक्टर आर. वी. प्रभाकर राव ने कहा, ‘‘बसावताराकम इंडो-अमेरिकन कैंसर अस्पताल की मेडिकल टीम के पूरे प्रयास के बावजूद उन्हें नहीं बचाया जा सका और उन्हें दोपहर 12 बजकर 39 मिनट पर मृत घोषित कर दिया गया।’’

उपायुक्त ने कहा कि कोई सुसाइड नोट (पत्र) नहीं मिला है। एसीपी रैंक के एक अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं।

तेदेपा पोलित ब्यूरो के सदस्य रावुला चन्द्रशेखर रेड्डी ने बताया कि राव की मृत्यु की सूचना मिलने पर वह और पार्टी के अन्य नेता अस्पताल पहुंचे।

राव 2014-19 तक आंध्र प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष रहे। हालांकि, पिछले विधानसभा चुनावों में उन्हें गुंटूर जिले के सात्तेनापल्ली से हार मिली। उससे पहले वह गुंटूर जिले से छह बार विधानसभा के लिये निर्वाचित हुए थे।

वह तेदेपा से उसकी स्थापना के वक्त से ही जुड़े हुए थे। उन्होंने तेदेपा संस्थापक एन टी रामाराव और एन चन्द्रबाबू नायडू की कैबिनेट में गृह, सिंचाई, पंचायती राज, ग्रामीण विकास और स्वास्थ्य मंत्री के रूप में भी काम किया था।

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव, राज्य भाजपा प्रमुख के. लक्ष्मण और अन्य नेताओं ने राव की मृत्यु पर शोक जताया है।


 

DO NOT MISS