General News

बेंगलुरु : एमनेस्टी इंटरनेशनल के ऑफिस पर ईडी ने मारा छापा, गैरकानूनी तरिके से विदेशी फंडिंग लेने का आरोप

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

बंगलूरू स्थित मानवाधिकारों की निगरानी संस्था एमनेस्टी इंटरनेशनल के दो दफ्तरों पर गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दोपहर के 2 बजे छापेमारी की. मानवाधिकार संगठन के कार्यलय मे छापेमारी आज दोपहर दो बजे चक चली है. 

प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी सूत्रों के अनुसार एनमेस्टी इंटरनेशनल इंडिया के खिलाफ फेमा जांच के सिलसिले में बेंगलुरू में दो स्थानों पर तलाशी ली.

इससे पहले अक्टूबर महिने में ईडी ने करप्शन के एक मामले में बेगंलुरु स्थित ग्रीनपीस इंडिया के कुछ दूसरे ठिकानों पर भी छापेमारी की थी. रिपोर्ट के अुनसार ये फेमा यानि विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम के नियमों के उल्लघंन का मामला है. इसके बाद ईडी ने ग्रीनपीस और उसकी सहयोगी संसथाओं के करीब दर्जन भर खातों को फ्रीज कर दिया था. 

एनजीओं ने बयान जारी कर कहा उनके खिलाफ लगे आरोपो को इनकार कर दिया. बता दें डायरेक्ट डॉयलाग इनिशियेटिव इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के नाम की कंपनी के ठिकानों पर छापेमारी की गई. 2016 में गठन की गई इस कंपनी को 29 करोड़ रुपये बतौर प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के रुप में मिले, जांच एजेंसी को आशंका है कि इस फंड का इस्तेमाल ग्रीनपीस इंडिया की गतिविधियों के लिए किया गया था. 

अधिकारियों ने कहा कि विदेश मुद्रा विनिमय प्रबंधन अधिनियम (फेमा) के तहत केंद्रीय जांच एजेंसी दस्तावेजों की तलाश कर रही है.

उन्होंने बताया कि इस मामले में करीब 36 करोड़ रुपये की राशि शामिल है, जो एमनेस्टी इंडिया को मई, 2014 से अगस्त, 2016 के बीच मिली . ईडी की यह कार्रवाई पर्यावरण पर काम करने वाले एनजीओ ग्रीनपीस और उससे जुड़े अन्य संगठनों के बंगलूरू दफ्तर पर छापेमारी के दो हफ्ते बाद की गई है .  ग्रीनपीस पर छापेमारी की कार्रवाई में ईडी ने उसके सभी खातों को फ्रीज कर दिया था . हालांकि ग्रीनपीस ने विदेशी सहयोग प्राप्त करने के आरोपों से इनकार किया था .

 

यह भी पढ़े - TDP सांसद सीएम रमेश के हैदराबाद स्थित घर और कार्यालयों पर पड़ा आयकर विभाग का छापा .. 

यह भी पढ़े - एयरसेल मैक्सिस डील : ED ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के खिलाफ दाखिल की चार्जशीट . . .

 

DO NOT MISS