General News

न्यूनतम साझा कार्यक्रम का मसौदा किसानों, रोजगार पर केंद्रित: कांग्रेस नेता

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

महाराष्ट्र में सरकार गठन से पहले तैयार किया गया न्यूनतम साझा कार्यक्रम (सीएमपी) किसानों और बेरोजगारी से निपटने के उपायों पर केंद्रित है। कांग्रेस के एक नेता ने शुक्रवार को यह बताया।

महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए संभावित गठबंधन पर फैसला करने से पहले कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना के नेताओं ने बृहस्पतिवार को यहां मुलाकात कर न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर विचार विमर्श किया था।

कांग्रेस के एक नेता ने पीटीआई-भाषा को बताया कि तीनों दलों के प्रतिनिधियों ने सीएमपी का मसौदा तैयार किया है। अब इसे तीनों दलों के शीर्ष नेता मंजूरी और अंतिम रूप देंगे।

उन्होंने कहा कि सीएमपी का मसौदा किसानों के समक्ष पेश आ रही समस्याओं के समाधान और बेरोजगारी से निपटने पर केंद्रित है। यदि किसी मुद्दे को शामिल करने या हटाने का कोई सुझाव आता है तो तीनों दलों की एक और बैठक की जाएगी।

राकांपा प्रमुख शरद पवार 17 नवंबर को नई दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करने वाले हैं। तब सरकार गठन पर अंतिम फैसला लिया जा सकता है।

इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता माणिकराव ठाकरे ने कहा कि सीएमपी के मसौदे पर अंतिम फैसला गांधी लेंगी जिसके बाद आगे के कदम के बारे में विचार किया जाएगा।

DO NOT MISS