General News

छत्तीसगढ़: दंतेवाड़ा में हुए माओवादी हमले में डीडी न्यूज के कैमरामैन समेत दो जवान शहीद

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में हुए माओवादी हमले में डीडी न्यूज के पत्रकार समेत दो जवान शहीद हो गए हैं. बता दें, ये पूरा मामला दंतेवाड़ा का है. लगभग 100-150 माओवादियों ने CRPF और दूरदर्शन के काफिले पर हमला बोला था. बताया जा रहा है कि पुलिस सर्च ऑपरेशन पर निकली थी. इस बीच दंतेवाड़ा के SP घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं.

वहीं घायलों को पास के अस्पताल में पहुंचाया गया है. माओवादी के द्वारा ये हमला निलवाया गांव के जंगलों में किया गया है. वहीं आज सुबह माओवादी और पुलिस के बीच एनकाउंटर हुआ था. ये पूरा हमला जिला प्रशासनिक कार्यालय से लगभग 30 किमी दूर हुआ है.

वहीं दंतेवाड़ा के  DIG ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'दो पुलिस के अधिकारी के साथ-साथ दूरदर्शन के एक कैमरामैन अच्युतानंद शहीद हो गए है. दो लोगों के घायल होने की भी जानकारी सामने आ रही है. घटना स्थल पर पुलिस दल पहुंच रही है.' 

इसके साथ ही उन्होंने कहा, 'ये घटना चुनाव से संबंधी है या नहीं ये जांच के बाद ही पता चलेगा. वो लोग अपनी उपस्थिति दर्ज करने के लिए ये हमला कर रहे हैं. हमारे पास स्पेशल टीम भी है हम कार्यवाई करेंगे. इन क्षोत्रों में हम सुरक्षा को लेकर पहले से भी सर्तक थे.. 2018 में हमने उनके खिलाफ काफी आक्रामक तरीके से कार्रवाई की थी..घटना की जांच करने के बाद ही पूरा मामला पता चलेगा.' 

बता दें, माओवादी ने चुनाव का बहिष्कार करने की बात कही थी. बताया जा रहा है कि दिल्ली से दूरदर्शन की एक टीम भेजी गई थी ताकि चुनाव से पहले छत्तीसगढ़ पर एक स्पेशल प्रोग्राम बनाया जा सके.

वहीं इस पूरे मामले पर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करते हुए लिखा, ''दो वीर शहीदों एवं मीडिया के मित्र को श्रद्धांजलि. कायर व डरपोक रमन सिंह को अब एक मिनट भी छत्तीसगढ़ के CM पद पर बैठने का कोई अधिकार नहीं है. कुछ ही दिन शेष है,नक्सलवाद से त्रस्त छत्तीसगढ़ की जनता ने मन बना लिया है, कि वो इस निक्कमी व नाकारा भाजपा को वोट की चोट से उखाड़ फेंकेगी!--- politicizing the naxal attack''

बता दें, छत्तीसगढ़ में दो चरणों में 12 और 20 नवंबर को विधानसभा चुनाव होने हैं.

DO NOT MISS