General News

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अपनाएगी नायब तरीका: घर-घर जाकर भरवाएगी युवाओं से रोजगार के फॉर्म

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनावों में रोजगार के मुद्दे को जोरशोर से उठाने पर मिली सफलता के मद्देनजर कांग्रेस अब लोकसभा चुनाव के लिए देश भर के युवाओं से संपर्क करने और उनसे अपनी सरकार बनने पर रोजगार संबंधी मदद का वादा करने जा रही है।

पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में कांग्रेस के विभागों एवं अनुषांगिक संगठनों के साथ बैठक में भारतीय युवा कांग्रेस को ‘चलो पंचायत’ अभियान के तहत घर-घर जाकर युवाओं से संपर्क साधने और पार्टी के पक्ष में उन्हें लामबंद करने को कहा।

राहुल गांधी के निर्देश पर अमल करते हुए युवा कांग्रेस ने फैसला किया है कि वह जल्द ही घर-घर जाकर बेरोजगार युवाओं से रोजगार फॉर्म भरवाएगी तथा उनसे कांग्रेस की सरकार बनने पर रोजगार संबंधी मदद या बेरोजगारी भत्ते का वादा करेगी। इस फॉर्म को 'युवा शक्ति कार्ड' नाम दिया गया है ।

यह भी पढ़ें - 'वंदे भारत एक्सप्रेस' की यात्रा आम जनता के लिए शुरू, राहुल गांधी और पीयूष गोयल में छिड़ी 'ट्विटर वॉर'

भारतीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष केशव चंद यादव ने "पीटीआई-भाषा" से कहा, 'हालिया विधानसभा चुनाव में संबंधित राज्यों के युवाओं से हमने फॉर्म भरवाकर वादा किया था कि उन्हें रोजगार या भत्ते की मदद की जाएगी। सरकार बनने के साथ ही तीनों राज्यों में हम इस वादे को पूरा कर रहे हैं।' 

उन्होंने कहा, "हम अब पूरे देश के युवाओं से यह फॉर्म भरवाकर वादा करेंगे कि कांग्रेस की सरकार बनने पर उन्हें रोजगार दिया जाएगा या बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। हमारी कोशिश होगी कि हम देश के हर घर और युवा तक पहुंचे।' 

दरअसल, कांग्रेस ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव से पहले युवाओं से इसी तरह का रोजगार फॉर्म भरवाया था और रोजगार से जुड़ी मदद का वादा किया था।

यह भी पढ़ें - पुलवामा आतंकी हमला: राहुल गांधी ने कहा, ''हम और पूरा विपक्ष सरकार और सुरक्षा बलों के साथ खड़ा है''

इन तीनों राज्यों में सरकार बनने के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार ने युवाओं की मदद के लिए युवा स्वाभिमान योजना शुरू की है तथा राजस्थान एवं छत्तीसगढ़ में बेरोजगार युवाओं के लिए मासिक भत्ते का ऐलान किया गया है।

DO NOT MISS