General News

कांग्रेस नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ भड़का रही है हिंसा: अमित शाह

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कांग्रेस पर नागरिकता (संशोधन) अधिनियम के खिलाफ हिंसा भड़काने का आरोप लगाया। शाह ने यहां एक चुनावी जनसभा में कहा कि नागरिकता (संशोधन) अधिनियम के पारित होने से विपक्षी दल को पेट दर्द होने लगा है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम नागरिकता संशोधन अधिनियम लेकर आए हैं और कांग्रेस को पेट दर्द होने लगा । वह उसके खिलाफ हिंसा भड़का रही है।’’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ मैं असम और (अन्य) पूर्वोत्तर राज्यों (के लोगों) को आश्वस्त करना चाहता हूं कि उनकी संस्कृति, सामाजिक पहचान, भाषा, राजनीतिक अधिकारों को नहीं छूआ जाएगा तथा नरेंद्र मोदी सरकार उनकी रक्षा करेगी।’’

शाह ने कहा कि मेघालय के मुख्यमंत्री कर्नाड संगमा ने इस मुद्दे को लेकर उनसे मुलाकात की है। उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने उन्हें समाधान ढूंढ़ने के लिए सकारात्मक रूप से मुद्दों पर चर्चा करने का आश्वासन दिया।’’


अमित शाह ने कहा सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि पर फैसला हो गया है। वर्षों से मामला कोर्ट में चल रहा था, लेकिन कांग्रेस ने वर्षों तक इस मसले को लटकाकर रखा। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब अयोध्या में आसमान को छूने वाला भव्य राम मंदिर जल्द बनने वाला है।


उन्होंने कहा राहुल गांधी कहते हैं झारखंड वालों का कश्मीर से क्या लेन-देन है। अरे राहुल बाबा, कश्मीर बचाने के लिए सबसे ज्यादा शहादत मेरे झारखंड के युवाओं ने दी है। सेना और CRPF के अंदर झारखंड के युवा ने कश्मीर की बर्फीली पहाड़ियों में अपना लहू बहाया है।


शाह ने कहा हम अभी #CAB2019 लाए तो कांग्रेस के पेट में दर्द हो गया। बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान में धार्मिक प्रताड़ना झेलने वाले शरणार्थी वर्षों से नर्क की जिंदगी जी रहे थे। लेकिन कांग्रेस इसे मुस्लिम विरोधी कह रही है। ये बिल मुस्लिम विरोधी नहीं है। कांग्रेस को आदत पड़ी है मुस्लिम विरोधी कहने की । 


उन्होंने कहा हम तीन तलाक का कानून लाए तो कांग्रेस ने इसे मुस्लिम विरोधी बताया।  हमने 370 हटाई तो कांग्रेस इसे मुस्लिम विरोधी बताया। अब #CAB2019 को ये मुस्लिम विरोधी बता रहा हैं।


उन्होंने कहा विपक्षी नॉर्थ ईस्ट में आग लगाने में पड़े हैं। मैं असम और नॉर्थ ईस्ट के सभी राज्यों के भाई बहनों को कहना चाहता हूं कि उनकी भाषा, संस्कृति, सामाजिक पहचान और उनके राजनीतिक अधिकार अक्षुण्ण रहेंगे। इन्हें हम तनिक भी आंच नहीं आने देंगे।


अमित शाह ने कहा कांग्रेस पार्टी सालों से हिंदू-मुसलमान की राजनीति, नक्सलवाद और आतंकवाद को बढ़ावा देती आई है। आतंकवाद को कठोर तरीके से मोदी जी जैसा प्रधानमंत्री आकर रोकता है तो उसमें उनको तुष्टीकरण और वोट बैंक की राजनीति दिखाई पड़ती है।

शाह ने कहा कल मेघालय के मुख्यमंत्री और अन्य मंत्री मिलने आए। उन्होंने कुछ समस्या बताई। मैंने आश्वासन दिया है कि इसमें सकारात्मक रूप से सोचकर मेघालय की समस्या का हम समाधान निकालेंगे।
 

DO NOT MISS