General News

VVIP हेलिकॉप्टर मामला : क्रिश्चियन मिशेल से पूछताछ की ईडी की याचिका पर तिहाड़ से जवाब तलब

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

नयी दिल्ली- दिल्ली की एक अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय की याचिका पर सोमवार को तिहाड़ जेल के अधिकारियों से जवाब मांगा। निदेशालय ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर मामले में गिरफ्तार मिशेल से जेल के अंदर पूछताछ के लिए याचिका दायर की है।

जेल अधिकारियों से मंगलवार तक जवाब देने के लिए कहा गया है।

विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने मिशेल को मंगलवार को पेश करने के लिये पेशी वारंट भी जारी किया। उसके वकील ने जेल के अंदर मानसिक रूप से प्रताड़ित किए जाने के आरोप लगाए थे जिस पर अदालत ने पेशी वारंट जारी किया।

दुबई से प्रत्यर्पण के बाद ईडी ने उसे पिछले वर्ष 22 दिसम्बर को गिरफ्तार किया था।

अदालत ने पहले इससे पहले मिशेल को कड़ी सुरक्षा वाली कोठरी में अलग-थलग रखे जाने को सही ठहराने में विफल रहने पर अधिकारियों को लताड़ लगाई थी और कहा था कि अगर उसे उचित जवाब नहीं मिला तो वह जांच शुरू करवाएगी।

मिशेल उन तीन कथित बिचौलियों में शामिल है जिनके खिलाफ घोटाले की जांच ईडी और केंद्रीय जांच ब्यूरो कर रहे हैं। अन्य बिचौलिये हैं गुइदो हाश्के और कार्लो गेरोसा।

बता दें मिशेल को दिसंबर के प्रथम सप्ताह में गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद ब्रिटिश उच्चायोग ने उसे राजनयिक पहुंच दिलाने की मांग की थी ।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘‘मिशेल को राजनयिक पहुंच मुहैया कराई गयी है। ’’ 

मिशेल (57) को हेलीकॉप्टर सौदे के मामले में संयुक्त अरब अमीरात द्वारा प्रत्यर्पित किये जाने के बाद भारत लाया गया था। फिलहाल वह यहां तिहाड़ जेल में बंद है।

समझा जाता है कि मिशेल को बृहस्पतिवार को राजनयिक पहुंच मुहैया कराई गयी ।

यह भी पढ़े- क्रिश्चियन मिशेल की वकील का बड़ा बयान- "अगस्ता मामले में 'सोनिया गांधी' हो सकती हैं श्रीमती गांधी"

मिशेल उन तीन बिचौलियों में शामिल है जिनसे सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय इस मामले में पूछताछ कर रहे हैं। गुइदो हेश्के और कार्लो गेरोसा ने आरोपों से इनकार किया है।

यह भी पढ़े - अगस्ता वेस्टलैंड केस में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल ने लिया श्रीमती गांधी का नाम, बचाव में उतरी कांग्रेस

यह भी पढ़े - क्रिश्चियन मिशेल को राजनयिक पहुंच मुहैया कराई गयी : मंत्रालय

( इनपुट - भाषा से )

 

DO NOT MISS