General News

अटॉर्नी जनरल के U-टर्न पर चिदंबरम का तंज: लगता है कि चोर ने राफेल के दस्तावेज लौटा दिए

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

राफेल सौदे से जुड़े दस्तावेजों की चोरी के संदर्भ में अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल के ताजा दावे को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने शनिवार को सरकार पर निशाना साधा और तंज कसते हुए कहा कि लगता है कि चोर ने दस्तावेज लौटा दिए।

चिदंबरम ने ट्वीट किया, 'सरकार ने बुधवार को कहा कि दस्तावेज चोरी हो गए। शुक्रवार को कहा कि दस्तावेजों की फोटोकॉपी चोरी हुई है। मुझे लगता कि बीच में बृहस्पतिवार को चोर ने दस्तावेज लौटा दिए।'

उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ‘‘मैं सरकार की समझ को सलाम करता हूँ।’’

दरअसल, अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल ने शुक्रवार को दावा किया था कि राफेल से संबंधित दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी नहीं हुए हैं और उच्चतम न्यायालय में दाखिल किए अपने जवाब में उनका मतलब था कि याचिकाकर्ताओं ने 'वास्तविक कागजातों की प्रति' का इस्तेमाल किया।

इससे पहले वेणुगोपाल ने बुधवार को उच्चतम न्यायालय को बताया था कि राफेल विमान सौदे से संबंधित दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी किये गये हैं और याचिकाकर्ता इन दस्तावेजों के आधार पर विमानों की खरीद के खिलाफ याचिकायें रद्द करने के फैसले पर पुनर्विचार चाहते हैं।

नौकरियों से जुड़े मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने यह भी कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में सिर्फ तीन बड़े मुद्दे होंगे-'रोजगार, रोजगार और रोजगार।'

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि राफेल सौदे से जुड़े ‘‘गुम’’ दस्तावेजों की जांच गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से शुरू होनी चाहिए जिन्होंने कथित रूप से दावा किया था कि सौदे से संबंधित फाइलें उनके पास हैं। 

गांधी ने कहा कि रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा देने और 2017 में गोवा के मुख्यमंत्री बनने वाले पर्रिकर ने अंतरराष्ट्रीय मीडिया को बताया था कि उन्हें नए राफेल सौदे की जानकारी नहीं है।

DO NOT MISS