General News

हुड्डा के घर पर सीबीआई के छापे पर कांग्रेस ने कहा - बदले की भावना से हुई छापेमारी

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

कांग्रेस ने हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के यहां सीबीआई के छापे की निंदा करते हुए शुक्रवार को कहा कि चुनाव नजदीक आते ही नरेंद्र मोदी सरकार ने बदले की भावना से यह कार्रवाई की है.

पार्टी ने यह भी कहा कि वह सरकार में आने पर उन अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित करेगी जो 'प्रधानमंत्री और अमित शाह के इशारे पर' विरोधियों को परेशान कर रहे हैं.

कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने संवाददाताओं से कहा, 'प्रधानमंत्री और भाजपा सरकार की दुर्भावना और प्रतिशोध की भावना एक बार फिर प्रकट हुई है. वह सरकारी एजेंसियों का इस्तेमाल विरोधियों को परेशान करने के लिए कर रही है. ' उन्होंने कहा, ‘‘वह पहले सीबीआई को दुरुस्त कर लेते तो अच्छा होता. हाल में जो विवाद हुआ है, उस कारण इसकी विश्वस्नीयता नहीं है।' शर्मा ने कहा, 'सुबह हुड्डा जी के यहां छापेमारी की है। हम उसकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं.  यह बदले की भावना से किया गया है। सरकार की नीयत और नीति खराब है.  चुनाव के नजदीक आने के साथ इस तरह की कोशिश बढ़ती जा रहीं हैं. ' उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री और भाजपा यही संदेश देना चाहते हैं कि विपक्ष भयभीत होकर बैठ जाए.  देश के लोग भी इसे समझ रहे हैं. ' कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, ' जींद में प्रचार कार्य आखिरी दौर में है. आज ही हुड्डा जी की वहां रैली थी. क्या यही कारण है कि आज ही छापेमारी की गई ?" उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा, 'सरकारी एजेंसियों को कानून के दायरे में काम करना चाहिए. चुनाव नजदीक हैं और सरकार बदलेगी। नयी सरकार में हर उस संस्था और अधिकारी की जवाबदेही सुनिश्चित की जाएगी जो मोदी जी और अमित शाह के इशारे पर विरोधियों को निशाना बना रहे हैं.  ' उन्होंने कहा, 'कोई संस्था ऐसी नहीं है जो मोदी जी और अमित शाह के हस्तक्षेप से बची हुई है। हम सरकारी एजेंसियों के दुरुपयोग से ड़रने वाले नहीं हैं. ' कांग्रेस नेता ने पूछा कि मोदी सरकार भाजपा के उन नेताओं के खिलाफ सीबीआई का इस्तेमाल क्यों नहीं कर रही है जिन पर गंभीर आरोप हैं ?

इधर हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के रोहतक स्थित आवास पर सीबीआई के छापे पर कांग्रेस विधायक कुलदीप शर्मा ने भाजपा सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि यह कार्रवाई वरिष्ठ कांग्रेस नेता को जींद उपचुनाव के लिए आज यानि शुक्रवार को होने वाली रैली में शिरकत करने से रोकने के लिए है .

जींद उपचुनाव 28 जनवरी को होना है. शर्मा ने रोहतक में संवाददाताओं से कहा, ‘‘ जींद में उपचुनाव होने वाला है और आज एक चुनावी रैली आयोजित की गई है.  यह (सीबीआई छापे) होना ही था और यह उपचुनाव को प्रभावित करने के लिए गलत राजनीतिक मंशा से किया गया है. ’’ 

गन्नौर से विधायक शर्मा ने आरोप लगाया, ‘‘भाजपा सरकार ने यह कदम हुड्डा को रैली में जाने से रोकने के लिए उठाया है.’’ हुड्डा कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला के पक्ष में जींद में चुनावी रैली को संबोधित करने वाले थे। पूर्व मुख्यमंत्री तथा पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता अहम माने जा रहे इस उपचुनाव में सुरजेवाला के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं.

गौरतलब है कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने भूमि आवंटन में कथित अनियमितताओं के मामले में हुड्डा के रोहतक स्थित आवास तथा अन्य स्थानों पर छापे मारे हैं. छापा मारे जाने के दौरान हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा अपने सांसद बेटे दीपेन्द्र सिंह हुड्डा के साथ घर में ही थे . 


 

DO NOT MISS