General News

सीबीआई ने कोलकाता पुलिस कमिश्नर से शिलांग में पूछताछ शुरू की

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

शिलांग- सीबीआई ने चिट फंड घोटाले के सिलसिले में कोलकाता पुलिस कमिश्नर से यहां अपने कार्यालय में शनिवार को पूछताछ शुरू कर दी। 

अधिकारियों ने बताया कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार, उनके वकील विश्वजीत देब और वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी जावेद शमीम तथा मुरलीधर शर्मा पूर्वाह्न 11 बजे जांच एजेंसी के कार्यालय पहुंचे, जहां सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त किए गए हैं। 

उन्होंने बताया कि कुमार के वकील और दो आईपीएस अधिकारियों को 30 मिनट के अंदर ही सीबीआई कार्यालय से बाहर जाने को कह दिया गया। 

मेघालय की राजधानी में ओकलैंड इलाका स्थित अति सुरक्षा वाले सीबीआई कार्यालय में कुमार से पूछताछ की जा रही है। यहां सीबीआई के तीन वरिष्ठ अधिकारी दिल्ली से शुक्रवार को पहुंचे थे। 

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को कोलकाता पुलिस प्रमुख को सीबीआई के समक्ष पेश होने और सारदा चिट फंड घोटाले से उपजे मामलों की जांच में सहयोग करने का निर्देश दिया था। साथ ही, न्यायालय ने यह भी स्पष्ट कर दिया था कि उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाए। 

यह भी पढ़े- CBI नौ फरवरी को शिलॉन्ग में कोलकाता पुलिस प्रमुख राजीव कुमार से पूछताछ करेगी. . . 

सीबीआई ने शीर्ष न्यायालय में आरोप लगाया था कि सारदा चिट फंड घोटाले की जांच में एसआईटी का नेतृत्व करने वाले कुमार ने इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों से छेड़छाड़ की और सीबीआई को जो दस्तावेज सौंपे, उनमें से कुछ में बदलाव किए हुए थे। 

शीर्ष न्यायालय ने कुमार को एक ‘न्यूट्रल’ स्थान शिलांग में जांच एजेंसी के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया, ताकि सारे अनावश्यक विवाद से बचा जा सके। 

यह भी पढ़े - कोलकाता पुलिस आयुक्त को सीबीआई के साथ सहयोग करने का आदेश, गिरफ्तारी या दंडात्मक कार्रवाई नहीं हो . . . . .

उल्लेखनीय है कि सीबीआई के अधिकारी पूछताछ करने के लिए तीन फरवरी को कोलकाता में कुमार के आवास पर गए थे लेकिन पुलिस ने उनकी कोशिश नाकाम कर दी। सीबीआई की कार्रवाई का विरोध करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तीन दिन तक धरना दिया। 

यह भी पढे-  ममता के करीबी पूर्व TMC सांसद का बड़ा खुलासा- शारदा घोटाले में शामिल थे कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार . . .

 

 

DO NOT MISS