General News

सीट बंटवारे पर बिहार NDA में बनी एक राय, नीतीश कुमार-अमित शाह ने निकाला ये फॉर्मूला

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

बिहार में एनडीए में आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सीट बंटवारे को लेकर आखिकार  आमसहमति बन गई है. अब राज्य की 40 सीटों में से आखिकार भाजपा 17 सीटों पर, जनता दल (यूनाइटेड) 17 पर और लोक जनशक्ति पार्टी बिहार में 6 सीटों पर लड़ेगी.


रविवार को राजधानी पटना में  प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ये ऐलान किया. इस दौरान रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग पासवान भी मौजूद थे.

इस मौके पर अमित शाह ने कहा कि एनडीए को 2014 के मुकाबले ज्यादा सीट मिलेंगी. वहीं नीतिश कुमार ने कहा कि हम सब मिलकर काम करेंगे. मैं jdu की तरफ से अमित शाह जी का धन्यवाद देता हूँ. 2009 और 2014 से भी ज़्यादा सीटें हम जीतेंगे.

यह भी पढ़ें - तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के खिलाफ उगला ज़हर, ''बिहार में आतंक का राज, राक्षस राज है''
 

नीतीश ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम बिहार में विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं. हमारी राय है कि राम मंदिर मामले को अदालत के फैसले के जरिए हल किया जाना चाहिए.

हालांकि अभी सीटों के चयन पर फैसला नहीं किया गया है कि कौन सी सीट पर किसका उम्मीदवार उतरेगा. लेकिन बिहार एनडीए के लिए यह बड़ी राहत वाली खबर देखी जा रही है.

इससे पहले लोजपा को राज्यसभा की भी एक सीट दी जाएगी और पासवान के इस सीट पर उम्मीदवार होने की संभावना है. चिराग पासवान ने इससे पहले जेटली को पत्र लिखकर यह समझाने के लिए कहा था कि नोटबंदी से देश को क्या लाभ हुए. उन्होंने यह भी ट्वीट किया था कि सीट बंटवारे की घोषणा में देरी से सत्ताधारी गठबंधन को नुकसान हो सकता है.

DO NOT MISS