General News

अमित शाह ने कहा - सभी बंगाली हिंदू शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी, क्योंकि हमने नागरिकता विधेयक पारित किया है.

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

तमाम विवादों के बाद मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लोकसभा चुनाव का बिगुल फूंकने पश्चिम बंगाल के मालदा पहुंचे. मालदा से शाह ने सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा. शाह न आरोप लगाया कि आजादी के बाद जो बंगाल हर क्षेत्र में आगे रहता था, उसकी हालत अब खराब हो गई है. अमित शाह ने आरोप लाय कि टीएमसी ने बंगाल को कंगाल बनाने का काम किया है. 

अमित शाह ने कहा , '2019 का चुनाव भारत का भविष्य निर्धारित करने वाला चुनाव तो है ही लेकिन उसके साथ बंगाल के लिए भी यह चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण है. 2019 का चुनाव तय करने वाला है कि बंगाल में हत्याएं करवाने वाली, लोकतंत्र का गला घोटने वाली, भ्रष्टाचार करने और घुसपैठ करने वाली तृणमूल सरकार बंगाल में रहेगी या जाएगी . 2019 का चुनाव बंगाल में एक बार फिर लोकतंत्र प्रस्थापित करने वाला चुनाव है. 


उन्होंने कहा कम्युनिस्टों को हटाकर बंगाल की जनता ने तृणमूल को शासन दिया था लेकिन आज के हालात देखकर बंगाल की जनता मज़बूरी में बोल रही है कि तृणमूल से अच्छे कम्युनिस्ट ही थे . 

शाह बोले भारतीय जनता पार्टी की रथ यात्रा रोकने से बंगाल की जनता के दिलों में जो कमल खिला है वो खत्म नहीं होगा - ममता दीदी, बंगाल की जनता ने 2019 में मोदी जी को फिरसे प्रधानमंत्री बनाने का मन बना लिया है. विपक्षी दलों की कोलकाता रैली में ‘भारत माता की जय’ का एक बार भी नारा नहीं लगा, बल्कि वे लोग मोदी - मोदी जपते रहे .

जिस बंगाल में संगीत की गूंज सुनाई पड़ती थी, उसी बंगाल में आज बम के धमाकों की गूंज सुनाई देती है . यदि पश्चिम बंगाल में कमल खिलेगा तो हम राज्य में घुसपैठ और गो तस्करी रोक देंगे. ममता दीदी अगर हमें रथ यात्रा नहीं निकालने देंगी तो हम रैली करेंगे और अगर रैली भी नहीं करने देंगी तो हम पैदल घर-घर जाएंगे . 

शाह ने आगे कहा जिस गठबंधन की रैली में भारत माता की जय का जयकारा ना लगता हो, वन्दे मातरम् के नारे नहीं लगते हो, वो देश का क्या भला करेंगे? 

उन्होंने कहा गठबंधन से जुड़े लोग सिर्फ मोदी को हटाना चाहते हैं . हम चाहते हैं गरीबी हटे, वो चाहते हैं मोदी हटे . हम चाहते हैं भ्रष्टाचार हटे वो चाहते हैं मोदी हटे. हम चाहते हैं देश से रोग और बीमारी हट जाएं वो चाहते हैं मोदी हट जाये . मोदी सरकार नागरिकता विधेयक को कानून का रूप देने के लिए प्रतिबद्ध है . लोकसभा चुनाव पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र बहाल करने के लिए होगा . 
 

DO NOT MISS