General News

बिहार : नाबालिग लड़की की क्षत-विक्षत हालत में मिली लाश, ऑनर किंलिग के आरोप में माता-पिता समेत दो सहयोगी गिरफ्तार

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

गया में एक नाबालिग लड़की की हत्या सनसनी खेज वारदात सामने आई है. जहां परिवार वालों ने इसे गैंगरेप -मर्डर बता रहे हैं. तो गया पुलिस अब इस मामले को ऑनर्र किंलिग ऐंगल से जांच कर रही है. हालांकि पोस्टमॉर्ट में रिपोर्ट में यौन शोषण का खुलासा नहीं हुआ.

इस मामले में पुलिस के आला अधिकारियों का कहना है कि नाबालिग लड़की 28 तारीख की शाम को अपने प्रेमी के साथ लापता हो गई थी. काफी खोजबीन के दो दिन बाद 31 तारिख वह वापस अपने घर आ गई. परिवार वालों ने लड़की को समझाने की कोशिश की , इसके बाद पिता ने अपनी लड़की को परिजन लीला पटवा के साथ भेज दिया. 

इसके कुछ दिनों बाद परिजन बुनियादगंझ थाना पहुंच कर 4 जनवरी को गुमशुदगी का केस दर्ज कराया. काफी खोजबीन के बाद 6 जनवरी को नाबालिग का क्षत - विक्षत शव घर और थाना के बीच में बरामद हुआ. जांच के बाद पुलिस ने पिता, प्रेमी सहित 6 लोगों के हिरासत में लिया है. 


पुलिस इसे ऑनर किलिंग ऐंगल से देख रही है. गया के एसससपी राजीव मिश्रा के अनुसार मां और बड़ी बहन ने मृतक के 31 जनवरी को लौटने की बात स्वीकार किया है, लेकिन पहले के बयानों में वे इस बात को छिपा रहे थे . एसएसपी ने कहा , इससे इनकी मिलीभगक की आंशका भी सही साबित हो रही है. 

जबकि शव मिलने के बाद मृतक के पिता ने आरोप लगाया कि गैंगरेप के बाद उसके बेटी की हत्या कर दी गई. जिसमें धारदार हथियार के साथ सबूत मिटाने के लिए एसिड का प्रयोग किया. 

यह भी पढ़े - पूर्णिया रिमांड होम डबल मर्डर केस में बड़ा खुलासा, घटना से महज़ तीन घंटे पहले मुलाकाती ने पहुंचा था लोडेड पिस्तौल

पिता के अनुसार जब वह अपने स्तर से अपनी बेटी को नहीं ढूंढ पाए तो 10 दिन बाद पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई. उसके बाद पुलिस को 6 जनवरी को नाबालिग लड़की का क्षत - विक्षत शव घर और थाना के बीच से बरामद किया. पिता ने कहा बेटी पांच रुपये लेकर वह घर से निकली थी .

यह भी पढ़े - हीरा कारोबारी के मर्डर की सजिश में 'साथ निभाना साथिया' की गोपी बहू से पूछताछ, दो गिरफ्तार