General News

बाबा रामदेव ने धनतेरस पर किया कपड़े के शोरूम ''पतंजलि परिधान'' का उद्घाटन

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

आज धनतेरस है इस मौके पर देश में हर्षोल्लास का माहौल है. मान्यता है कि धनतेरस के अवसर पर खरिदारी शुभ होती है. इस मौके पर बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि ने अपने पहले कपड़े के शोरूम ''पतंजलि परिधान'' का उद्घाटन किया है. देश की राजधानी दिल्ली के सुभाष प्लेस में खुले ''पतंजलि परिधान'' के पहले शोरूम का उद्घाटन खुद बाबा रामदेव ने किया. उनके मुताबिक ''पतंजलि परिधान'' शोरूम में सभी तरह के पोशाक मिल रहे हैं. और सबसे खास बात ये भी बताया कि दिवाली में यहां 25 प्रतिशत की छूट मिलेगी.

दिल्ली के नेताजी सुभाष प्लेस में आयोजित इस उद्घाटन समारोह में बाबा रामदेव के साथ पहलवान सुशील कुमार और फिल्म निर्देशक मधुर भंडारकर भी मौजूद थे.

इस दौरान योगगुरू बाबा रामदेव ने बताया कि देशभर में दिसंबर तक करीब 25 नए स्टोर खुल जाएंगे. फैशन विस्तार की स्थापना की पूरी प्रक्रिया करीब 2 साल लगे. ''पतंजलि परिधान'' के इन स्टोर्स में भारतीय पोशाकों के साथ-साथ वेस्टर्न ड्रेस, असेसरीज और जेवर भी मिलेंगे. दिल्ली में खुले स्टोर में 1,100 रुपये में जींस मिल रहा है.

इस मौके पर बाबा रामदेव ने ये भी कहा कि, "जैसा कि ग्लोबल वार्मिंग हमें घेर रही है. खतरनाक रसायनों की आजीविका से हमें बचाने के लिए पतंजलि का इस्तेमाल करना चाहिए. पतंजलि हानिकारक रसायनों से मुक्त है. पतंजलि चमड़े के खिलाफ है. पशु क्रूरता कर चमड़े बनाने वालों के नीतियों का हम विरोध करते हैं. मैं हिंदू-मुस्लिम या किसी धर्म के बारे में बात नहीं कर रहा हूं, लेकिन ये हिंसा और क्रूरता के बारे में है इसलिए मैं इसके खिलाफ हूं"

बाबा रामदेव के प्रवक्ता ने ट्वीट कर ''पतंजलि परिधान'' के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस शोरूम में मेंस वेयर, विमिंज वेयर, किड्स वेयर, डेनिम वेयर, एथनिक वेयर, कैजुअल वेयर और फॉर्मल वेयर के साथ-साथ 3000 से ज्यादा वैराइटीज में कपड़े मिलेंगे. ये कपड़े लिवफिट, आस्था और संस्कार ब्रैंड्स के तहत उपलब्ध कराए जाएंगे.

इस ट्वीट बाबा रामदेव के प्रवक्ता ने ये भी कहा कि, ''जिस तरह खादी ने देश के स्वतंत्रता संग्राम का नेतृत्व किया था, उसी तरह पतंजलि परिधान देश में आर्थिक आजादी का वाहक बनेगा. ध्वज राष्ट्र की आन-बान-शान होता है, कपड़ा व्यक्ति के व्यक्तित्व की पहचान और सम्मान होता है' .

DO NOT MISS