General News

अगस्ता वेस्टलैंड केस: 'बिचौलिए' क्रिश्चियन मिशेल को लाया गया भारत, LIVE अपडेट

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

11:42 बजे अपडेट : मिशेल को पहले मेडिकल जांच के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा है फिर सीबीआई मुख्यालय ले जाया जाएगा. जांच एजेंसी से जुड़ी सात गाड़ियां मिशेल के साथ हैं. मिशेल को सीबीआई मुख्यालय में ले जाने की तैयारी चौकस की गई है. मिशेल के आने से पहले सीबीआई मुख्यालय पर कड़ी व्यवस्था की गई है.

11:19 बजे अपडेट : क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण का कोडनेम 'ऑपरेशन यूनिकॉर्न' नाम दिया गया था- सूत्र

11:18 बजे अपडेट : दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल की एक टीम क्रिश्चियन मिशेल को सीबीआई मुख्यालय तक ले जाने में मदद करेगी.

11:14 बजे अपडेट : मेडिकल चेक-अप के बाद क्रिश्चियन मिशेल को सीबीआई मुख्यालय में ले जाया जाएगा.

11:11 बजे अपडेट : सीबीआई ने क्रिश्चियन मिशेल को हिरासत में ले लिया है. उन्हें पलाम तकनीकी हवाई अड्डे से बाहर निकाला जा रहा है. मिशेल को Gulf Stream plane GLF3 से भारत लाया गया हैं. जो करीब 10 बजकर 40 मिनट पर भारत में लैंड किया है.

11:00 बजे अपडेट: क्रिश्चियन मिशेल को पलाम तकनीकी हवाई अड्डे पर हिरासत में लेने से पहले पूछताछ की जाएगी. हवाई अड्डे पर सीबीआई अधिकारी मौजूद हैं.

अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले के मामले में क्रिश्चियन मिशेल को आज रात भारत लाया जा चुका है. इसे एक बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है. रात के करीब 10:44 बजे क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाने वाली विमान दुबई से आकर दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरी है. जानकारी के मुताबिक मिशेल को सीबीआई अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा. 

रात के करीब 10:50 बजे नई दिल्ली में मिशेल के आगमन पर सीबीआई अदालत में कार्यवाही के लिए तैयारी शुरू हुई. जानकारी के मुताबिक हवाई अड्डे पर फिलहाल सीबीआई के अधिकारी मौजूद हैं. 

बता दें, दुबई सरकार ने अपने प्रत्यर्पण के लिए डेक को मंजूरी दे दी थी. वकील ने रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए इस बात की पुष्टि की थी कि मिशेल आज रात भारत लाया जाएगा. दुबई सरकार को औपचारिक प्रशासनिक आदेश का लंबे वक्त से इंतजार था. जब दुबई के सुप्रीम कोर्ट ने प्रत्यर्पण के खिलाफ मिशेल की याचिका खारिज कर दी थी. फिलहाल मिली जानकारी के मुताबिक बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को आज रात भारत ले आना सुनिश्चित किया गया था. 

बता दें, इससे पहले अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाला मामले में दुबई की सर्वोच्च न्यायालय ने 3,600 करोड़ रुपये के कथित बिचौलिए एवं ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण करने के भारत के अनुरोध को मंजूरी दे दी थी. दुबई कैसेशन कोर्ट ने 54 वर्षीय ब्रिटिश क्रिश्चियन जेम्स मिशेल को भारतीय अधिकारियों को प्रत्यर्पित करने के अपीलीय न्यायालय के फैसले को बरकरार रखा था. ऐसे में आज रात मिशेल को भारत लाया जाना तय हो गया था.

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में इस तरह से क्रिश्चियन मिशेल को भारत लाना जांच एजेंसी को बड़ी कामयाबी के तौर पर देखा जा रहा है. 

बता दें, अगस्ता वेस्टलैंड या चॉपर गेट स्कैम की नींव साल 1999 में हुई थी. जब इंडियन एयर फोर्स ने भारत के VVIP लोगों के लिए पहले 8 हेलीकॉप्टर जो बाद में 12 हो गए थे उसे भारत में लाने की मांग की थी. साल 2010 में 12 हेलीकॉप्टर की खरीद के लिए अगस्ता वेस्टलैंड के साथ डील हुई थी. हेलीकॉप्टर सौदे में करोड़ों रुपए की दलाली का आरोप लगा है. बता दें, बाद में इस सौदे को भारत की तरफ से रद्द कर दिया था.

रक्षा क्षेत्र से जुड़ी इटली की एक कंपनी जिसका नाम फिनमैकेनिका है बता दें, इसी की सहयोगी कंपनी है अगस्ता वेस्टलैंड. गौरतलब है कि साल 2013 में फिनमैकेनिका और अगस्ता वेस्टलैंड के CEO की गिरफ्तारी हुई थी. इनपर आरोप लगा था कि इन्होंने इस सौदे में घूस दी थी.

वहीं इस पूरे मामले पर भारत के कई नेताओं और अधिकारियों पर भी गाज गिरी थी. इस मामले में पूर्व IAF चीफ एसपी त्यागी को CBI ने साल 2016 में गिरफ्तार भी किया था. क्रिश्चियन मिशेल तीन बिचौलियों में से एक है. ईडी और CBI अन्य दो बिचौलियों गुइडो हाश्के और कार्लो गेरोसा की जांच में भी जुटा हुआ है. 

DO NOT MISS