General News

बिहार के लोगों पर विवादित बयान देकर घिरे केजरीवाल, मनोज तिवारी ने किया हमला-बिहार के लोग केजरीवाल के लिए सिर्फ वोट बैंक

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

देश की राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बिहार के लोगों पर विवादित बयान देकर सियासी पारा चढ़ा दिया है। केजरीवाल ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा इलाज के लिए दिल्ली आनेवाले बाहर के लोगों खास कर बिहार के लोगों पर बयान दिया था। जिसपर दिल्ली की राजनीति गरमा गई है। इस बयान को लेकर दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल के बायान का विरोध करते हुए पूछा है कि बहारी लोगों के आने से केजरीवाल का कलेजा क्यों फट रहा है? 

वहीं बिहार के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने भी केजरीवाल के बयान की निंदा की। उन्होंने कहा बाल केजरीवाल बाल ठाकरे की तरह व्यवहार न करें। 

दरअसल, अरविंद केजरीवाल ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, 'बिहार का एक आदमी 500 रुपये के टिकट से ट्रेन में बैठकर दिल्ली में आता है और 5 लाख का इलाज फ्री में करवा कर चला जाता है। इससे खुशी होती है कि अपने देश के लोग हैं, सबका इलाज होना चाहिए। लेकिन दिल्ली की अपनी क्षमता है, पूरे देश के लोगों का कैसे इलाज करेगी, इसलिए जरूरत है कि सारे देश में स्वास्थ्य सुविधाएं सुधरे।'

बता दें अरविंद केजरीवाल ने सरकार द्वारा कराए एक सर्वे का जिक्र करते हुए कहा, 'आज मिडिल क्लास के लिए प्राइवेट अस्पताल में इलाज कराना मुश्किल है, लेकिन हमारी सरकार ने सरकारी अस्पताल में दवाइयां मुफ्त की और मैं मानता हूं लंबी लाइन होती है। उसका कारण है कि दिल्ली में बहुत से लोग बाहर से आ रहे हैं। हमने सर्वे करवाया था, जिसमें बॉर्डर पर दिल्ली सरकार के एक अस्पताल में 80% मरीज बाहर के थे। फिलहाल दिल्ली में इतने अस्पताल बन गए हैं जो सिर्फ दिल्ली वालों का इलाज करने के लिए काफी हैं।'

केजरीवाल के इस बायन पर मनोज तिवार हमला बोलते हुए कहा कि एक बार फिर केजरीवाल घृणा भाव दिखाया है, अगर बिहार का व्यक्ति दिल्ली आकर अपना इलाज करवा रहा है तो इससे केजरीवाल का कलेजा क्यों फट रहा है? 5 लाख तक फ्री इलाज की व्यवस्था अरविंद केजरीवाल ने तो की नहीं, यह मोदी जी ने की है, जिसे हम आयुष्मान भारत बोलते हैं।''

मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि केजरीवाल और वह राजनीतिक शत्रु हैं, लेकिन अब केजरीवाल उनसे निजी दुश्मनी निकाल रहे है। उन्होंने कहा , शत्रुता की सजा अगर वह दूसरे प्रांत के लोगों को दे रहे हैं, तो यह उनकी बौखलाहट दिखाता है, यह सब इसलिए है क्योंकि उन्हें अपनी हार साफ दिखाई दे रही है। लोग उन्हें चुनाव में सबक सिखाएंगें। 

DO NOT MISS