General News

अरुण जेटली का रविवार को निगमबोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

 पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का रविवार दोपहर को निगमबोध घाट में अंतिम संस्कार किया जाएगा। भाजपा नेता सुधांशु मित्तल ने यह जानकारी दी। जेटली का निधन दोपहर 12 बजकर सात मिनट पर एम्स में हो गया। उनका कुछ सप्ताह से अस्पताल में इलाज चल रहा था। वह नौ अगस्त को एम्स में भर्ती हुए थे।

एम्स में औपचारिकताओं के बाद जेटली के पार्थिव शरीर को उनके कैलाश कॉलोनी स्थित आवास पर ले जाया जाएगा। रविवार सुबह उनका पार्थिव शरीर भाजपा मुख्यालय ले जाया जाएगा जहां राजनीतिक दलों के नेता उन्हें अंतिम विदाई देंगे।

यह भी पढ़ें - जेटली के निधन पर राजनीतिक गलियारों में छाई शोक की लहर, PM मोदी समेत तमाम राजनेताओं ने दी श्रद्धांजलि

भाजपा मुख्यालय से पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए निगमबोध घाट ले जाया जाएगा। अस्पताल ने एक संक्षिप्त बयान में बताया कि जेटली ने दोपहर 12 बजकर सात मिनट पर अंतिम सांस ली।

एम्स ने कहा कि हम बड़े दुख के साथ अरुण जेटली के निधन की जानकारी दे रहे हैं कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने 24 अगस्त को दोपहर 12 बजकर सात मिनट पर अंतिम सांस ली। जेटली को यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में नौ अगस्त भर्ती कराया गया था और कई क्षेत्रों के वरिष्ठ चिकित्सकों का दल उनका इलाज कर रहा था। जेटली पेशे से वकील थे और भाजपा सरकार के पहले कार्यकाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मंत्रिमंडल में उनकी अहम भूमिका रही ।

यह भी पढे़ं - पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन, CM योगी बोले, 'जेटली का जाना देश-समाज के लिए अपूरणीय क्षति'

उन्होंने वित्त और रक्षा मंत्रालय का कार्यभार संभाला और कई बार सरकार के लिए संकट मोचक भी साबित हुए। बीमारी के कारण जेटली ने 2019 लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया था।

यह भी पढ़ें - Arun Jaitley Passes Away LIVE: अरुण जेटली का निधन, दिल्ली के AIIMS अस्पताल में ली आखिरी सांस

इस साल मई में भी उन्हें इलाज के लिए एम्स में भर्ती कराया गया था।

DO NOT MISS