General News

अमित शाह ने गृह मंत्रालय का कार्यभार संभाला, कहा- 'देश की सुरक्षा और देशवासियों का कल्याण सर्वोच्च प्राथमिकता'

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को केंद्रीय गृहमंत्री के रूप में कार्यभार संभाल लिया। भाजपा के नेतृत्व वाले राजग की प्रचंड जीत के बाद दो दिन पहले उन्होंने मंत्री पद की शपथ ली थी।

केंद्रीय गृह सचिव राजीव गाबा, गुप्तचर ब्यूरो के प्रमुख राजीव जैन और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने गृह मंत्रालय के नॉर्थ ब्लॉक स्थित कार्यालय में शाह का स्वागत किया।

गृह मंत्रालय के लिए दो नवनियुक्त राज्य मंत्रियों जी. के. रेड्डी और नित्यानंद राय ने भी शनिवार को कार्यभार संभाला।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि उम्मीद है कि शाह आतंकवाद और अवैध प्रवास को कतई बर्दाश्त नहीं करने की राजग की नीति को प्राथमिकता देंगे।

नए गृहमंत्री का तात्कालिक कार्य जम्मू कश्मीर में स्थिति से निपटना होगा, जहां इस वक्त राष्ट्रपति शासन लगा है और उन्हें असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के प्रकाशन से उत्पन्न स्थिति से भी निपटना होगा।

भाजपा के नेतृत्व वाले राजग को हाल में सम्पन्न लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत मिली है। भाजपा ने इस बार 542 सीटों में से 303 सीट जीती हैं। पार्टी अध्यक्ष के तौर पर शाह भाजपा की जीत के अहम रणनीतिकार रहे।

केरल के राज्यपाल पी. सदाशिवम और महाराष्ट्र के राज्यपाल सी. विद्यासागर राव गृहमंत्री को पहले-पहल शिष्टाचार फोन करने वालों में शामिल रहे।

गौरतलब है कि पीएम मोदी के शपथ ग्रहण के बाद विभागों का बंटवारा किया गया. एनडीए-1 में गृहमंत्री रहे राजनाथ सिंह को अब रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है और वित्त मंत्रालय अब निर्मला सीतारमण को दिया गया है। वहीं पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर को विदेश मंत्री बनाया गया है।  यानी सरकार की सबसे महत्वपूर्ण समिति सुरक्षा मामलों की समिति सीसीएस में पीएम मोदी के अलावा ये चार चेहरे प्रमुख तौर पर रहेंगे।

( इनपुट- भाषा से भी )

DO NOT MISS