General News

मध्य प्रदेश: दो मासूम के किडनैप और मर्डर से भड़के लोगों का प्रदर्शन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

देश का दिल एक बार फिर उबल रहा है, मध्य प्रदेश के लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। लोगों की ये नाराजगी कमलनाथ सरकार के खिलाफ और मध्यप्रदेश की पुलिस के खिलाफ है। मध्य प्रदेश में चित्रकूट में दो बच्चों के मर्डर पर बवाल जारी है। आज बीजेपी पूरे राज्य में प्रदर्शन करने वाली है साथ बीजेपी ने सतना और चित्रकूट में बंद बुलाया है।

धर्मनगरी चित्रकूट में दो जुड़वा भाइयों की हत्या के बाद कोहराम मचा है। कमलनाथ सरकार के खिलाफ लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रशासन ने कई इलाकों धारा 144 लागू कर दी है, प्रदर्शनकारियों पर पुलिस लाठीचार्ज कर रही है।

आपको बतास दें, दस से ज्यादा दिनों तक बच्चे आरोपियों की चंगुल में थे, आरोपी बार बार बच्चे के मां बाप से फिरौती मांग रहे थे.. लेकिन पुलिस इन  बच्चों को सुरक्षित वापस नहीं ला पाई, और बच्चों की निर्मम हत्या कर दी गई। 

वारदात के बाद कमलनाथ सरकार के खिलाफ लोगों में भारी आक्रोश है, लोग कमलनाथ सरकार पर सवाल उठा रहे हैं। इस बीच इस मामले पर शर्मनाक राजनीति भी शुरू हो गई है। मंत्री पीसी शर्मा ने नाकामी का ठीकरा योगी सरकार पर फोड़ा जिसके बाद आरोप-प्रत्यारोप का  सिलसिला जारी है।

गौरतलब है कि कांग्रेस सुरक्षा का वादा कर सत्ता में आई है और कमलनाथ को कानून व्यवस्था का हवाला देकर मुख्यमंत्री बनाया गया। लेकिन अब चित्रकूट से हुए अगवा जुड़वा भाईयों की हत्या के बाद जवाब देते नहीं बन रहा है। दो मासूम बच्चों को स्कूल से सरेआम अगवा किया गया, जिसे यूपी ले जाकर बच्चों की हत्या कर दी गई।

इतनी बड़ी वारदात के अंजाम तक पहुंचने तक सरकार और एमपी की पुलिस मूकदर्शक बनी रही। जब पुलिस कुछ ही नहीं पाई, सरकार के दावे खोखले साबित होने लगे, तो जनता का गुस्सा फूट गया और लोग सड़कों पर उतर गए।

आज बीजेपी मध्यप्रदेश में व्यापक प्रदर्शन करने वाली है। सतना में बीजेपी ने बंद का आह्वान किया है तो भोपाल में भारतीय जनता युवा मोर्चा प्रदर्शन करेगा। आपको बता दें कि एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार रात पीड़ित परिवार से चित्रकूट जाकर मुलाकात की।

इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दो टूक शब्दों में कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही है, और सरकार इस मसले पर लाजवाब है।

DO NOT MISS