General News

फरार विधायक अनंत सिंह ने वीडियो जारी कर कहा : तीन-चार दिन में आत्मसमर्पण कर दूंगा

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

घर से एके-47 राइफल और ग्रेनेड बरामद होने के बाद फरार हुए मोकामा से बाहुबली निर्दलीय विधायक अनंत सिंह ने वीडियो जारी कर कहा है कि वह गिरफ्तारी से नहीं डरते और अगले तीन-चार दिन में अदालत में आत्मसमर्पण कर देंगे । 


पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर पटना जिले के बाढ अनुमंडल के लदमा गांव स्थित अनंत के पैतृक आवास पर छापेमारी कर एक एके-47 राइफल, एक मैगजीन, कुछ कारतूस और दो ग्रेनेड बरामद किए थे ।

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) कांतेश कुमार मिश्र ने 17 अगस्त को बताया था कि आधुनिक हथियार और अग्नेयास्त्र बरामद होने के मद्देनजर अनंत सिंह के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून :यूएपीए: के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

फरार अनंत सिंह ने वीडियो जारी कर कहा, ‘‘मैं गिरफ्तारी से नहीं डरता। मेरा एक दोस्त बीमार है जिसे देखने मैं आया हूं । तीन-चार दिन लगेंगे। यहां से जाने पर चौथे दिन पटना शहर स्थित अपने आवास पर मीडियाकर्मियों से बातचीत करूंगा और अदालत के समक्ष आत्मसमर्पण कर दूंगा।’’ विधायक ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री से समय दिए जाने का आग्रह किया, पर उन्हें समय नहीं दिया गया।

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) कांतेश कुमार मिश्र ने कहा कि अनंत सिंह की गिरफ्तारी के लिए शनिवार की रात पटना शहर के माल रोड स्थित उनके सरकारी आवास पर छापेमारी की गई थी, लेकिन वह अपने घर से फरार मिले।

पुलिस ने विधायक के सरकारी आवास से एक मोबाइल फोन जब्त करने के अलावा एक तलवार भी बरामद की थी जो अनंत सिंह की बताई जाती है।

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) ने कहा कि अनंत सिंह के आवास पर छापेमारी से पहले विधायक के तीन आधिकारिक अंगरक्षकों को भी हटा लिया गया था।

अपने पैतृक घर से हथियार एवं अन्य अग्नेयास्त्र की बरामदगी को मुंगेर से जदयू सांसद ललन सिंह की साजिश बताते हुए अनंत ने उनकी पुत्री अपर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह पर दुर्भावना से ग्रसित होकर उनके खिलाफ कार्रवाई करने का आरोप लगाया। 

उन्होंने कहा कि उन्हें फंसाने के लिए उनके घर हथियार और अन्य अग्नेयास्त्र रखे गए। 

विधायक ने दावा किया कि वह पिछले 14 साल से उक्त मकान में नहीं रह रहे हैं तथा उनके दुश्मन और उनके घर का एक ही भूखंड है।

उन्होंने अपने घर पर छापेमारी के दौरान पुलिस द्वारा तोड़फोड किए जाने का आरोप लगाते हुए 17 अगस्त को कहा था कि छापेमारी की उन्हें सूचना नहीं दी गयी और इस बारे में उन्हें गांव के अन्य लोगों से जानकारी मिली ।

पुलिस ने अनंत सिंह के आरोपों को खारिज करते हुए कहा था कि उनके घर पर छापेमारी दंडाधिकारी की उपस्थिति में कानून के अनुसार करने के साथ ही पूरी कवायद की वीडियोग्राफी कराई गई है।

अनंत सिंह की पत्नी एवं कांग्रेस प्रत्याशी नीलम देवी ने ललन सिंह के खिलाफ मुंगेर लोकसभा सीट से हाल में लोकसभा चुनाव लड़ा था, पर पराजित रही थीं ।

‘छोटे सरकार’ उपनाम से जाने जाने वाले सिंह का लंबा आपराधिक रिकॉर्ड है। जदयू से निष्कासित कर दिए जाने पर अनंत ने 2015 में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मोकामा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था और विजयी रहे थे ।
 

DO NOT MISS