General News

पटना : 'अपना घर' होम के बच्चों का वीडियो वायरल, बच्चों ने कहा : जबरन दी जाती है नशीली दवाएं

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड के बाद अब पटना में ‘ ‘अपना घर, बाल घर’ में रह रहे बच्चों के साथ उत्पीड़न की कड़वी सच्चाई सामने आ रही है. यहां पटना के बच्चों के भागने का मामला सामने आया है वहीं अब राजधानी पटना स्थित अपना घर , बाल घर की पोल पट्टी खुल गयी है. 

दरअसल , सोशल मीडिया में एक वीडियो  वायरल हो रहा है जिसमें खुलासा हुआ है कि यहां बच्चों को न सही भोजन दिया जाता है ना ही कोई अन्य सुविधाएं दी जाती हैं. यहीं तक बात - बात पर बच्चों को बुरी तरह पीटा जाता है. राज्य सरकार ने इस घटना पर संज्ञान लिया है और उसकी ओर से कार्रवाई की बात कही जा रही है.

वायरल हो रहे वीडियो में पुनाईचक स्थित शेल्टर होम रहने वाले बच्चों की हालत दिखी गई है. बच्चे बता रहा हैं किस तरह से पिटा जाता है . बच्चों ने आरोप लगाया कि न तो इन्हें अच्छे से खाना दिया जाता है और न ही कोई सुविधाएं मुहैया कराया जाता है. कई बच्चों ने एक सूर में कहा उन्हें खाने के साथ जबरन नशीली दवाएं दी जाती हैं. 

वीडियो में हैरान करने वाली बता यह है कि जो बच्चों अपने घर और परिवार वालों का नाम और पता बतारहे हैं उन्हें भी उनके परिजनों के पास जाने नहीं दिया जा रहा. 


उनमें से एक बच्चा कह रहा है कि रवि सर को जब गुस्सा आता है तो बच्चों को उठाकर जमीन पर पटक देते हैं. मां मिलने आती है तो उसे मारपीट कर भगा देते हैं. 

 

यह भी पढ़े - पूर्व मंत्री मंजू वर्मा को गिरफ्तार नहीं किये जाने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा ‘बिहार में सबकुछ ठीक नहीं है’ . 


मुख्यमंत्री के सरकारी आवास से महज़ एक किलोमीटर की दूरी पर समाज कल्याण विभाग का यह अपना घर संचालित है. बेली रोड पर स्थित अपना घर में अपने परिवार से बिछड़ चुके बेसहारा बच्चों को रखा जाता है. लेकिन , अब यहां रह रहे बच्चों की वीडियो सामने आई है उससे विभाग की पोल खोल कर रख दी है.


यह भी पढ़े - बिहार : पुलिस लाइन में हंगामा करने वाले 175 पुलिसकर्मी बर्खास्त, 23 निलंबित