General News

राजस्थान में कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या, सरकार पर लगाया कर्जमाफी का वादा पूरा ना करने का आरोप

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:


राजस्थान के श्री गंगानगर जिले में रविवार को एक किसान ने आत्महत्या कर ली थी। आरोप है कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने कर्जमाफी का वादा पूरा नहीं किया और किसान को कर्ज चुकाना पड़ रहा था, जिसके चलते तनावग्रस्त किसान ने आत्महत्या कर ली। अब इस मामले में श्री गंगानगर के एसडीएम का कहना है कि किसान ने किसी के दबाव में यह कदम उठाया है।  

आत्महत्या करने से पहले 45 वर्षीय किसान सोहन लाला ने एक सुसाइड नटो भी छोड़ा है। इसके साथ ही आत्महत्या से पहले उसने अपने मोबाइल से वीडिय़ो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया । सुसाइड नोट में जिसमें किसान ने अपनी मौत के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को जिम्मेदार बताया है। उसने अपनी मौत के लिए सीएम के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की बात भी कही है।

उधर, भाजपा विधायक दल के नेता गुलाब चंद कटारिया ने इस मामले में गहलोत और पायलट के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग करते हुए कहा कि सत्ता में आने से पहले इन लोगों ने दस दिन में कर्जा माफ करने की बात कही थी, लेकिन अब तक कर्ज माफी नहीं हो रही है, इस कारण किसान आत्महत्या कर रहे है।

बता दें 45 वर्षीय किसान ने अशोक गहलोत की राजस्थान सरकार पर आरोप लगाया कि उसने चुनाव के समय किया गया कर्जमाफी का वादा पूरा नहीं किया। सोहन लाल का लाइव विडियो देखकर कई लोगों को शक हुआ कि वह आत्महत्या कर सकते हैं। कुछ लोग उन्हें बचाने के लिए उनके घर की ओर भागे। हालांकि, तब तक बहुत देर हो चुकी थी। सोहन लाल ने पहले से ही जहर खा लिया था, जिसके चलते उनकी मौत हो गई। 

जहर खाने से पहले सोहन लाल ने फेसबुक पर स्टेटस भी डाला, जिसमें लिखा था कि सारी उम्र कोई जीने की वजह नहीं पूछता, लेकिन मौत के बाद सब पूछते है कैसे मरे। रायसिंह नगर पुलिस थाना अधिकारी किशन सिंह ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।  

DO NOT MISS