Elections

पिछले चुनाव परिणाम के बाद सट्टेबाज डूबे, 17 मई को ईमानदारी की शुरूआत हुई : PM मोदी

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में सत्ता का सबसे बड़ा संग्राम यानि आम चुनाव अब लगभग अपने अंतिम चरण पर पहुंच चुका है। 7 चरणों में होने वाला ये चुनाव 11 अप्रैल को शुरू हुआ था और 19 मई को आखिरी चरण के लिए मतदान होगा। फिर 23 मई को परिणाम की घोषणा होगी। 

रिपब्लिक भारत के एग्जीक्यूटिव एडिटर अभिषेक कपूर से बात करते हुए मोदी ने कहा कि पिछला चुनाव परिणाम आने के बाद सट्टेबाज डूब गये थे और 17 मई :2014: को ईमानदारी की शुरूआत हुई थी ।

मोदी ने आगे कहा, ‘‘ 16 मई 2014 को पिछली बार चुनाव परिणाम आया था और 17 मई को एक दुर्घटना हुई थी, 17 मई को सट्टाखोरों को मोदी की हाजिरी का बड़ा नुकसान हुआ था। सट्टा लगाने वाले तब डूब गये थे, यानी ईमानदारी की शुरुआत 17 मई को हो गई थी । अरबो, खरबों :रूपयों: का नुकसान उठाना पड़ा था, सट्टेबाजो को । ’’

उन्होंने कहा कि आज भी 17 मई है । उस समय 17 मई को सट्टा बाजार में जिन लोगों ने कांग्रेस के लिये बोली लगाई थी, उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ा था।

मोदी ने कहा कि उस समय सट्टा बाजार में जो चल रहा था, उसमें कांग्रेस के लिये 150 सीटों की बोली लगती थी और भाजपा के लिये 218 सीटों की । सबके सब डूब गये थे । उन्होंने कहा कि सट्टेबाजों के दिमाग को देश की जनता ने झटका दे दिया था ।

इससे पहले मोदी ने पूर्ववर्ती कांग्रेस नीत शासनकाल का नाम लिये बिना कहा कि ऐसे भी चुनाव हुए जिसके लिये ‘‘आईपीएल मैच को बाहर ले जाना पड़ा था। लेकिन जब सरकार सक्षम होती है तो आईपीएल मैच भी होते है, रमजान भी होता है, हनुमान जयंती भी होती है, ईस्टर भी होता है, बच्चों की परीक्षा भी होती है और चुनाव भी होता है।’’

DO NOT MISS