Elections

वाराणसी में नरेंद्र मोदी के खिलाफ प्रियंका को चुनावी मैदान में न उतारने पर शीला दीक्षित ने दी प्रतिक्रिया

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

वाराणसी लोकसभा सीट से पीएम मोदी के खिलाफ कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी के चुनाव मैदान में उतारने के कयासों पर कांग्रेस ने ब्रेक लगा दिया है। पीएम मोदी के रोड़ शो ठीक पहले ने कांग्रेस ने अजय राय को अपना उम्मीदवार बनाया है। प्रियंका गांधी  को चुनावी मैदान में न उतारने पर दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

शीला दीक्षित ने कहा प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के महासचिव के तौर पर अब तक बहुत अच्छा काम किया है उन्होंने कहा प्रियंका गांधी वाड्रा लोकसभा चुनाव लड़ने के बारे में निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र है। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, प्रियंका जो भी फैसला लेती है, वह उनके ऊपर है। 

बता दें इससे पहले अटकले लगाई जा रही थी कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत पार्टी के कई दिग्गज नेता पीएम मोदी को  कड़ी टक्कर देने के लिए प्रियंका को वाराणसी सीट से कांग्रेस उम्मीदवार बनाने पर विचार कर रहे थे। पिछले 15 दिनों में जब भी राहुल से प्रियंका के चुनाव लड़ने को लेकर पूछा गया तो उनका जवाब होता था , जल्द ही बड़ा सरप्राइज देखने को मिलेगा। 
वाराणसी सीट उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल में आती है और प्रियंका गांधी को इस क्षेत्र की कमान सौंपी गई है। ऐसे में प्रियंका गांधी के पति राबर्ट वाड्रा ने खुद कहा था कि प्रियंका वाराणसी से चुनाव लड़ना चाहती हैं और पार्टी गंभीरता से विचार कर रही है। इसके बाद प्रियंका ने भी कई जगह इस बात के संकेत दिए कि वह वाराणसी से चुनाव लड़ने की इच्छुक हैं।

लेकिन कांग्रेस ने अजय राय पर अपना दांव खेला है। अजय राय वाराणसी सीट से विधायक रह चुके हैं। अजय राय ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1996 में बीजेपी प्रत्याशी के रूप में उत्तर प्रदेश विभानसभा चुनाव लड़ कर की थी। जिसमें उन्हें विजय प्राप्त हुई थी। उन्होंने सपा से 2009 में लोकसभा चुनाव लड़े, लेकिन वह चुनाव हार गए थे। इसके बाद वो कांग्रेस में शामिल हुए और 2014 में नरेंद्र मोदी के खिलाफ ताल ठोका था। इस दौरान उन्होंने कहा था कि नरेंद्र मोदी को बाहरी और अरविंद केजरीवाल को भगोड़ा करार दिया था।  लेकिन उनका यह दांव काम नहीं आया था और उन्हें महज़ 75 हजार वोट ही मिल सके थे।

DO NOT MISS