Elections

आरोपी मोईन के समर्थकों ने R.भारत की टीम के साथ की धक्का मुक्की - देखें वीडियो

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ के करीबियों के ठिकानों पर दो दिन ताब़ड़तोड़ छापेमारी चली। इस बीच आयकर विभाग ने बड़ा खुलासा करते हुए  281 करोड़ रुपेय बरामद करने का दावा किया साथ ही 20 करोड़ रुपये एक पार्टी के मुख्यालय पहुंचाने की भी बात कही। इसके बाद आईटी की टीम ने दिल्ली स्थित कांग्रेस दफ्तर में कार्यरत एसएम मोईन के घर पर छापा मारा था वहां आनन - फानन में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल पहुंच गए। मौके पर रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क की टीम पहुंची तो मोईन के समर्थकों ने उनके साथ बदसलूकी की । मोईन के समर्थकों ने निर्भीक पत्रकारिता कर रहे रिपब्लिक भारत के रिपोर्टर अमित चौधरी के साथ धक्का मुक्की करने लगे। वह यहीं नहीं रूके उन्होंने कैमरा तोड़ने की भी कोशिश की । 

बता दें एसएम मोईन कांग्रेस का दफ्तर का कर्मचारी है, आईटी विभाग के कार्रवाई के बाद अहमद पटेल उसके घर पहुंचे थे। छापे के बाद प्रेस रिलीज के जरिए बताया गया है कि एक पार्टी मुख्यालय 20  करोड़ रुपए पहुंचाए गए है । 

बता दें मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ करीबी प्रवीण कक्कड़ के घऱ से आयकर विभाग ने लगभग 17 करोड़ रुपये कैश बरामद किया। इसके अलावा कई अहम काग़ज़ात भी बरामद किए गए। प्रवीण कक्कड़ के इंदौर के घऱ पर भी आयकर विभाग का छापा पड़ा, इंदौर में एक साथ करीब चार से ज़्यादा ठिकानों पर छापेमारी की गई।  भोपाल में प्रवीण कक्कड़ के अलावा उनके दो करीबी अश्विनी शर्मा और प्रतीक जोशी के ठिकानों पर भी छापेमारी हुई, ये दोनों प्रवीन कक्कड़ के खासमखास है।

भोपाल और इंदौर के अलावा गोवा में भी आयकर विभाग की टीम प्रवीण कक्कड़ अश्विनी शर्मा और प्रतीक जोशी के लिंक खंगालती रही। इन तीन लोगों के अलावा दिल्ली और ग्रेटर नोएडा में भी छापेमारी का दौर चला। दिल्ली में लंबे वक्त से सीएम कमलनाथ के राजनीतिक सलाहकार रहे राजेंद्र कुमार मिगलानी के घर भी अयकर विभाग की टीम ने छापा मारा। ग्रेटर नोएडा में मोज़रबियर कंपनी पर छापा पड़ा। ये वो कंपनी है जिसके मालिक रतुल पुरी है। और रतुल पुरी सीएम कमलनाथ के भांजे हैं।


 

DO NOT MISS