Elections

R. भारत के सुपर EXCLUSIVE खुलासे के बाद कांग्रेस पर बरसी BJP, 'जीजा-साले ने मिलकर किया घोटाला'

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

रिपब्लिक भारत और ऑनलाइन वेबसाइट Opindia ने देश को हिला देने वाला सुपर EXCLUSIVE खुलासा किया। 2019 चुनाव से पहले आज ये खबर राहुल गांधी की राजनीति को हमेशा के लिए बदलकर रख सकती है। हमारे इस खुलासा के बाद भारतीय जनता पार्टी की प्रतिक्रिया सामने आई है।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गांधी परिवार पर हमला बोलते हुए कहा कि 70 सालों में संस्थागत भ्रष्टाचार कांग्रेस की देन रही है। लेकिन पिछले 24 घंटों में समाचार माध्यमों से जो तथ्य आए हैं वो दर्शाते हैं कि कैसे गांधी-वाड्रा परिवार ने पारिवारिक भ्रष्टाचार को परिभाषित किया है।

गौरतलब है कि हमने आपको बताया कि राहुल गांधी की जांच के घेरे में आए हथियारों के सौदागर संजय भंडारी से क्या रिश्ता है और कैसे राहुल गांधी, उनके जीजा रॉबर्ट वाड्रा, उनकी बहन प्रियंका गांधी, हथियारों के सौदागर संजय भंडारी और एनआरआई बिजनेसमैन सीसी थंपी का कनेक्शन एक ऐसे व्यक्ति से जुड़ता है।

स्मृति ईरानी ने रिपब्लिक की खबर का जिक्र करते हुए कहा कि एक समाचार सूत्र के माध्यम से राष्ट्र को जानकारी मिली है कि एच एल पाहवा नाम के एक व्यक्ति के यहां ED की रेड में उसके पास से राहुल गांधी के साथ लेनदेन के दस्तावेज मिले हैं।

उन्होंने कहा, ''जमीन की खरीददारी से संबंधित इन दस्तावेजों से ये बात सामने आई कि एच एल पाहवा के साथ राहुल गांधी के आर्थिक संबंध हैं।''

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एच एल पाहवा के यहां हुई रेड में चौकाने वाली बात ये है कि उनके पास जमीन की खरीद फरोख्त के लिए पैसे नहीं थे। राहुल गांधी और श्रीमती वाड्रा के लिए जमीन खरीदने के लिए सी सी थंपी ने 50 करोड़ से ज्यादा रुपये दिये।

इसके साथ ही स्मृति ईरानी ने ये भी कहा कि यूपीए सरकार में रक्षा से संबंधित सौदे और पेट्रोलियम संबंधित सौदे में संजय भंडारी और सी सी थंपी के तार जुड़े हैं। इन सौदों की जांच में पता लगता है जीजा जी के साथ साले साहब भी पारिवारिक भ्रष्टाचार में शामिल हैं।

जो खुलासा आज रिपब्लिक भारत और ऑनलाइन वेबसाइट Opindia ने किया है, ये 2019 चुनाव से पहले आज ये खबर राहुल गांधी की राजनीति को हमेशा के लिए बदलकर रख सकती है, क्योंकि जिस राफेल के नाम पर वो लगातार प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते रहे हैं। उस राफेल डील से जुड़ा एक सच राहुल गांधी के लिए परेशानी बन सकता है।

DO NOT MISS