Elections

राजस्थान: टिकट नहीं मिलने पर अपने ही नेताओं ने कांग्रेस के खिलाफ उगला जहर ..

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

टिकट नहीं मिलने को लेकर राजस्थान में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के द्वारा जगह-जगह पर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. टिकट नहीं मिलने के बाद कांग्रेसी नेता स्पर्धा चौधरी के कार्यकर्ताओं के द्वारा दिल्ली में विरोध प्रदर्शन किया गया. बता दें, दिल्ली में स्पर्धा चौधरी के कार्यकर्ताओं के द्वारा सचिन पायलट का घेराव किया गया जिसके कुछ ही देर बाद ही कांग्रेस पार्टी ने स्पर्धा चौधरी को पार्टी से 6 साल के लिए सस्पेंड कर दिया गया. बता दें, स्पर्धा पर पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप लगाते हुए पार्टी से निष्कासित किया गया है.

स्पर्धा चौधरी ने कांग्रेस पर बोला हमला-

वहीं अब इस पूरे मामले पर स्पर्धा चौधरी ने रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए कांग्रेस पार्टी पर गंभीर आरोप लगाया है. स्पर्धा ने कहा कि, 'भले ही पार्टी ने मुझे 6 साल के लिए निकाला हो ... ये लोग मेरे जैसे लोगों की आवाज को दबाना चाहते हैं. मैं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से और सचिन पायलट जी से पूछना चाहती हूं कि इन्होंने मेरे बदले पैराशूट कैंडिडेट को मैदान में क्यों उतारा है?' 

उन्होंने कहा, 'हमारी महिला कांग्रेस अध्यक्ष को नजरअंदाज कर दिया गया है. राहुल गांधी पार्टी के भीतर महिलाओं के रोल को लेकर बात करते हैं.. वहीं अब जो महिला टिकट की हकदार है उन्हें टिकट नहीं दिया जा रहा है.' इसके साथ ही स्पर्धा ने पार्टी पर गंभीर आरोप लगाया है. उन्होंने पार्टी पर टिकट बेचने का आरोप लगाया.

बता दें, स्पर्धा चौधरी के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि स्पर्धा फुलेरा सीट से काफी अच्छी उम्मीदवार थी लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया गया. इसके साथ ही कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने फुलेरा सीट को पैसों के लिए बेच दिया है.

कार्यकर्ताओं ने सचिन पायलट पर लगाया आरोप -

वहीं टिकट बंटवारे को लेकर कोटा में यूथ कांग्रेस के द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया. कोटा में पीपल्दा सीट पर राम नारायण मीणा को टिकट दिया गया है. जिससे लोग नाराज हैं. नाराज कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी के दफ्तर का गेट तोड़ दिया और टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया. 

कांग्रेस नेताओं ने पार्टी पर टिकट बेचने का लगाया आरोप -

वहीं अब कांग्रेस नेताओं ने पार्टी पर टिकट बेचने का आरोप लगाया है. कांग्रेस किसान नेता रमेश मीणा ने आरोप लगाया है कि प्रमोद जैन भाया ने कांग्रेस पार्टी के तीन टिकट को 6 करोड़ रुपए में खरीदा है. उनका कहना है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ये वादा किया था कि किसी पैराशूट कैंडिडेट को टिकट नहीं दिया जाएगा लेकिन उनके लिस्ट में ऐसे कई लोगों को टिकट दिया गया है जो टिकट के हकदार नहीं हैं.

राजस्थान में इस बार भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर देखी जा रही है. तमाम सर्वे इस बार दोनों ही पार्टियों के बीच कड़ी टक्कर की बात कर रही है. राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों के लिए सात दिसंबर को मतदान के बाद मतगणना 11 दिसंबर को होगी.

DO NOT MISS