Elections

प्रियंका अमेठी में नमाज पढ़ती हैं, मध्यप्रदेश में मंदिर में दर्शन करती हैं: स्मृति ईरानी

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने प्रियंका गांधी पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि कांग्रेस महासचिव ने अमेठी में वोट के लिए नमाज पढ़ा और उसके बाद मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन भी किये।

स्मृति ने प्रियंका का नाम लिये बगैर यहां एक जनसभा में कहा, ‘‘कांग्रेस इतनी घबरायी हुई है कि इसकी महासचिव वोटों के लिए वहां (अमेठी) नमाज पढ़ने के बाद अब मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले स्थित महाकाल मंदिर में दर्शन किये।’’ 

स्मृति ने उत्तर प्रदेश की अमेठी लोकसभा सीट से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा है। प्रियंका ने इस सीट पर अपने भाई राहुल के लिए समर्थन जुटाने में प्रचार किया। 

प्रियंका दो दिन पहले महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन करने गई थीं और वहां महाकाल की पूजा की थी। उन्होंने उसके बाद एक रोडशो भी किया था। 

स्मृति ने खंडवा लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी नंदकुमार सिंह चौहान के समर्थन में सतवास में आयोजित एक सभा में कहा कि किसानों की ऋण माफी और बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ते को मध्यप्रदेश की सरकार ने यह कहकर रोक दिया है कि प्रदेश में आचार संहिता लगी है, बाद में कर्ज माफ किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यह किसानों और बेरोजगारों के साथ धोखा है। स्मृति ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बताएं कि उन्होंने झूठ बोलकर प्रदेश के किसानों और बेरोजगारों से धोखा क्यों किया? 

उन्होंने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार बेईमान है। इसने भाजपा सरकार द्वारा गरीबों के लिए चलाई गई योजनाओं को बंद कर दिया है।

बता दें अमेठी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और भाजपा नेता स्मृति जुबिन ईरानी आमने-सामने हैं। यहां लंबे समय से गांधी परिवार का प्रभाव बरकरार है, जिसे हटाकर भाजपा यहां अपनी जगह बनाने की कोशिश में जुटी है।

अमेठी लोकसभा सीट को वीवीआईपी सीट का दर्जा प्राप्त है। इस सीट पर 1980 में कांग्रेस नेता संजय ने पहली बार चुनाव जीता था। उसके बाद से यह सीट कांग्रेस गांधी परिवार की सीट बन चुकी है। यहां अब तक 16 लोकसभा चुनाव और 2 उपचुनाव हो चुके हैं, जिनमें 16 बार कांग्रेस को जीत मिली है। सिर्फ 1977 की जनता लहर में लोकदल और 1998 में भाजपा को यहां जीत मिली थी।

( इनपुट-भाषा से भी )

DO NOT MISS