Elections

कांग्रेस पर बरसे PM मोदी, कहा- 'मैं सोने की चम्मच लेकर पैदा नहीं हुआ'

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

ठिठुरने वाली ठंड के मौसम के बीच चुनाव के चलते राजनीतिक गलियारों मे खासा गर्मा-गर्मी देखी जा रही है. सभी राजनीतिक पार्टियां चुनाव की रणभूमि में अपनी आर-पार का मुकाबले के लिए दंभ भर रही हैं. मध्यप्रदेश और मिजोरम में वोटिंग चल रही है. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि वो कोई सोने की चम्मच लेकर पैदा नहीं हुए और ये (चुनाव) तो एक ‘कामदार’ की एक ‘नामदार’ के खिलाफ लड़ाई है.

राजस्थान के नागौर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा बीजेपी की सरकार चाहे केन्द्र में हो या राजस्थान में, हम लोगों का एक ही मंत्र रहता है ‘सबका साथ, सबका विकास’. ये मंत्र ज्योतिबा फूले और बी आर आंबेडकर की प्रेरणा से मिला है. ये मंत्र हिन्दुस्तान की महक को लेकर आया हुआ है. मोदी ने कहा कि शौर्य और श्रम की धरती पर आज एक ‘कामगार’ ‘नामदार’ के खिलाफ लड़ाई के लिए मैदान में है.

उन्होंने कहा, 'मैं आपसे अलग नहीं ....जो जिंदगी आप गुजारते है वही जिंदगी मैंने गुजारी है. जिस जिदंगी को आप जी रहे हैं, वहीं जिंदगी मैं जी रहा हूं. ना आप सोने की चम्मच लेकर पैदा हुए हैं ना मैं सोने की चम्मच लेकर पैदा हुआ.' प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ना आपके माता-पिता, दादा-दादी कभी राज करते थे, ना मेरे दादा दादी राज करते थे, पहली बार एक कामदार आपसे आशीर्वाद मांगने आया है.’’ 

उन्होंने कहा कि जो मूंग और मसूर में फर्क नहीं समझते हैं वे आज देश के किसान को किसानी समझाने के लिए घूम रहे हैं. पीएम मोदी ने बोला कि हम हमारे पोते-पोतियों के लिए वोट नहीं मांग रहे, बल्कि आपके कल्याण के लिए और आपके सपनों को पूरा करने के लिए मांग रहे हैं. 

मोदी ने कहा, ‘‘जो धरती से कटे हुए हैं, जन-जन से जिनका चार-चार पीढ़ी का भी नाता नहीं रहा है, ये लोग कभी आपके दुखों को समझ नहीं सकते हैं और आपके दुखों को कभी दूर नहीं कर सकते.’’

जाहिर है कि राजस्थान में इस बार भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर देखी जा रही है. तमाम सर्वे इस बार दोनों ही पार्टियों के बीच कड़ी टक्कर की बात कर रही है. सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी के लिए राजस्थान के किले को अपने खाते से गंवाना नहीं चाहती है. तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस राजस्थान में जीत का ताज अपने नाम करने के लिए बेकरार है. राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों के लिए 7 दिसंबर को मतदान और 11 दिसंबर को नतीजे सामने आएंगे.

DO NOT MISS