Elections

PM Modi Interview | पीएम मोदी ने कहा - 'वंशवाद को देश के लिए बड़ा खतरा'

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नंबर वन न्यूज नेटवर्क रिपब्लिक टीवी को धमाकेदार इंटरव्यू दिया। रिपब्लिक भारत के एडिटर इन चीफ़ अर्नब गोस्वामी से बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव 2019, राफेल लड़ाकू विमान सौदा, पाकिस्तान , इमरान खान , चुनाव आचार संहिता का उल्‍लंघन और 'मैं भी चौकीदार' कैंपेन से जुड़े हर सवाल का बड़ी बेबाकी से जवाब दिया। 

इस चुनावी इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वंशवाद को देश के लिए बड़ा खतरा बताया। उन्‍होंने कहा कि वंशवाद लोकतंत्र के लिए खतरा है। इसमें कोई दो राय नहीं है। लेकिन वंशवाद की असली परिभाषा को समझने की आवश्‍यकता है। देखिए, अगर किसी नेता का पुत्र अपने दम पर चुनाव लड़कर जीतता है, तो इसमें कोई दिक्‍कत नहीं है। लेकिन जहां एक पार्टी एक कंपनी की तरह चलती है, वहां पेरशानी होती है। जहां ये तय होता है कि पिता के बाद पार्टी बेटे के हाथों में ही जाएगी, वहां दिक्‍कत है।

वहीं राहुल गांधी के जीजा रॉबर्ट वाड्रा पर प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा  'वो लोग खुद को राजा-महाराजा समझते थे। इसके अलावा खुलासा करते हुए पीएम ने बताया कि कांग्रेस वाड्रा गांधी परिवार के खिलाफ केस दबाना चाहती थी। उन्होंने कहा कि अब तो नेशनल हेराल्ड केस में जमानत पर निकलने की नौबत आई है।'

पीएम मोदी ने कहा भारत में लोकतंत्र हैं। भारत में कानून की व्यवस्था है। इनको नोटिस जाती है। नोटिस के बाद उनको उसका रिस्पांस करना चाहिए। आप हैरान हो जाएंगे .. कांग्रेस पार्टी को नेशनल हेराल्ड मामले में अनेक नोटिस गई ,ये अपने आपको को राजा महाराजा मानते थे और जवाब तक नहीं देते थे।  कोर्ट में जाना पड़ा .. कोर्ट में भी बड़ी आसानी से तारीख़ मिल जाती है। उसके कारण लंबा खींचा ...तब जाकर उन्हें अब नेशनल हेराल्ड मामले में जमानत का मौका मिला। तो कानून अपना काम करता है। हमको अगर राजनीति से प्रभावित होकर करना होता .. तो हम तुरंत कर देते.. वह तो हमें करना नहीं है। हम कहते है भाई गलत हुआ तो कानून अपना काम करेगा।  

पीएम मोदी ने आगे कहा कि अगर हम नहीं करते हैं तो आप हमें सवाल पूछते हैं। क्यों नहीं करते हो? हम करते हैं तो आप सवाल पूछते है तो राजनीति से प्रेरित होकर करते हैं। तो आप लोगों का प्रोब्लोम क्या हैं अगर टमाटर का दाम बढ़ जाए तो हाउस वाइफ को जाकर पूछते हो कि टमाटर के दाम बढ़ गए हैं आपको क्या कहना है ? और टमाटर का दाम गिर गया तो किसान को जाकर पूछते हो कि टमाटर का दाम गिर गया , आपका क्या कहना है?  मीडिया पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा 'कहीं तो संतुलन रखो।'

DO NOT MISS