Elections

मजबूत, निर्णायक, पारदर्शी एवं संवेदनशील सरकार के वादे साथ भाजपा का संकल्प पत्र जारी किया

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को जोर दिया कि पिछले पांच वर्षो में एक मजबूत, निर्णायक, पारदर्शी एवं संवेदनशील सरकार दी, साथ ही 2019 के चुनाव में लोगों से आशीर्वाद मांगा। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में लोकसभा चुनाव के संदर्भ में भाजपा का संकल्प पत्र जारी करने के लिए आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि 2014 के चुनाव में जनता ने आशीर्वाद दिया और हमें पूरा भरोसा है कि 2019 में एक बार फिर नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जनादेश मिलेगा।

उन्होंने कहा कि 2022 में देश आजादी के 75 वर्ष पूरे करेगा इसलिए हम 75 संकल्प लेकर आगे बढ़ रहे हैं। हम देश को मौजूदा समस्याओं से मुक्त बनाने की दिशा में पूर्ण प्रयास के संकल्प के साथ आगे बढ़ेंगे।

शाह ने कहा कि हमने पांच साल में 50 से ज्यादा महत्वपूर्ण कदम उठाये हैं जो इतिहास का हिस्सा बनेंगे।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 2014-19 की यात्रा ऐसी है कि जब भी भारत के विकास का और दुनिया में भारत की साख बनने का इतिहास लिखा जाएगा तो यह कार्यकाल स्वर्ण अक्षरों में अंकित होगा।

उन्होंने कहा कि आज देश के अधिकांश घरों में बिजली है। 8 करोड़ से ज्यादा शौचालय हैं, 7 करोड़ गरीबों के घरों में गैस कनेक्शन दिये गये हैं, 50 करोड़ गरीबों के लिए मुफ्त इलाज सुनिश्चित किया गया है।

शाह ने जोर दिया कि 2014 में भारत की अर्थव्यवस्था 11 वें नंबर पर थी, आज हम दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं और तेजी से 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी सरकार ने आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब दिया और पिछले पांच साल में एक मजबूत, निर्णायक, पारदर्शी एवं संवेदनशील सरकार दी।’’ 

भाजपा के संकल्प पत्र समिति के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा नीति केवल हमारे राष्ट्रीय सुरक्षा विषयों द्वारा निर्देशित होगी। आतंकवाद और उग्रवाद के विरुद्ध ‘‘जीरो टॉलरेंस’’ की नीति को पूरी दृढ़ता से जारी रखेंगे। सुरक्षा बलों को आतंकवादियों का सामना करने के लिए ‘‘फ्री हैंड’’ नीति जारी रहेगी।

उन्होंने जोर दिया कि सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जायेगा।

सिंह ने कहा कि कृषि क्षेत्र में उत्पादकता बढ़ाने के लिए 25 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा। देश के सभी किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ देने की बात भी कही गई है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि संकल्प पत्र में छोटे तथा खेतिहर किसानों की सामाजिक सुरक्षा के लिए 60 वर्ष की उम्र के बाद पेंशन योजना का उल्लेख किया गया है।


 

DO NOT MISS