Elections

Republic Double Exit Poll | यूपी में BJP को लग सकता है तगड़ा झटका, महागठबंधन को इतनी सीटें मिलने का अनुमान

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

17वीं लोकसभा चुने जाने के लिए 7 चरणों में होने वाला मतदान समाप्त हो चुका है। अब 23 मई को आने वाले नतीजे का सबको इंतजार है। 23 मई को साफ हो जाएगा कि देश में अगली सरकार किसकी बनने वाली है। लेकिन उससे पहले हम आपको बताएंगे कि जनता किसके साथ है और किसके खिलाफ।

रिपब्लिक भारत और सी वोटर, 'जन की बात' ने मिलकर एक सर्वे किया है। इस जमीनी सर्वे के जरिए हम आपको बताने वाले हैं कि आज देश का मिजाज क्या है। इसी कड़ी लोकसभा सीट के लिहाज से देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश पर पूरे देश की निगाहें टिकी हुई हैं। यह बात किसी से छुपी नहीं कि दिल्ली की सत्ता की चाबी उत्तर प्रदेश से होकर गुजरती है। लिहाजा जो यहां कि जनता की दिल यानि ज्यादा संख्या में सीटें जितने में कामयाब होगा वो निश्चिचत तौर पर केंद्र की सरकार के गठन में अहम रोल निभा सकता है।

सी वोटर के मुताबिक किसको कितना वोट?

 रिपब्लिक भारत और 'सी वोटर' के सर्वे  के मुताबिक लोकसभा चुनाव 2019 में उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का गठबंधन NDA के खाते में 38 सीटें आने का अनुमान लगाया गया है। जबकि सपा-बसपा गठबंधन की झोली में 40 सीट मिलने की आशंका जताई जा रही है। वहीं कांग्रेस का हाल हर बार की तरह यूपी में इस बार भी पस्त ही दिखाई दे रहे है। सर्वे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार कांग्रेस को सिर्फ 2 सीट मिलती दिखाई दे रही हैं।

सी वोटर के मुताबिक किसको कितना वोट शेयर?

अब हम आपको उत्तर प्रदेश में वोट शेयर का अनुमान बताते हैं। यूपीए को 11.4% वोट, एनडीए को 44.1%, महागठबंधन को 40% वोट जबकि अन्य को 41.9% वोट मिलने का अनुमान है।

'जन की बात'  के अनुसार किसको कितनी सीट? 

रिपब्लिक भारत और 'जन की बात' का ये सर्वे सबसे सटीक है। आप इस पर पूरा भरोसा कर सकते हैं। इस सर्वे के मुताबिक सबसे ज्यादा लोकसभा सीट वाले उत्तर प्रदेश में कांटे का मुकाबला होने वाला है।

जन की बात के इस जमीनी सर्वे के मुताबिक उत्तर प्रदेश में एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी का गठबंधन NDA सबसे बड़ा दल बनकर उभर सकता है। यहां बीजेपी युक्त NDA के खाते में करीब 46 से 57 सीटों के बीच जाने का अनुमान लगाया गया है। जबकि सपा-बसपा गठबंधन की झोली में करीब 21 से 32 सीटों के बीच मिलने की आशंका जताई जा रही है। वहीं कांग्रेस का हाल हर बार की तरह यूपी में इस बार भी पस्त ही दिखाई दे रहे है। सर्वे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार कांग्रेस को सूबे में 2 से 4 सीटों पर जीत मिल सकती है।

 

 

DO NOT MISS