Elections

आप और कांग्रेस को अलग अलग हराने के बजाय इनके गठजोड़ को हराना अधिक आसान : हर्षवर्धन

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

केन्द्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता डा. हर्षवर्धन ने भरोसा जताया है कि लोकसभा चुनाव में आप और कांग्रेस को अलग-अलग हराने के बजाय इनके गंठबंधन को हराना ज्यादा आसान होगा। भाजपा नेतृत्व द्वारा चांदनी चौक के बजाय पूर्वी दिल्ली से लोकसभा चुनाव लड़ाने को लेकर डा. हर्षवर्धन ने कहा, ‘‘ फिलहाल ऐसा नहीं होने जा रहा, लेकिन अगर सीट बदली तो भी जीत तय है। 
 
दिल्ली की चांदनी चौक लोकसभा सीट से सांसद डा हर्षवर्धन ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘आप और कांग्रेस ने चुनावी गठजोड़ की इच्छा जाहिर कर दी है। संभावित चुनावी तालमेल से साबित हो जायेगा कि मोदी सरकार की उपलब्धियों के प्रति विपक्ष का भय ही, गठबंधन की एकमात्र वजह है।’’ 
 
उल्लेखनीय है कि 2014 के चुनाव में दिल्ली की सातों सीट भाजपा ने जीती थी। जबकि 2004 से 2014 तक संप्रग सरकार के दोनों कार्यकाल में सातों सीटों पर कांग्रेस काबिज रही। 
 
डा. हर्षवर्धन ने ‘आप कांग्रेस गठबंधन’ से भाजपा को नुकसान के चुनावी विश्लेषणों को सिरे से नकारते हुये कहा, ‘‘यह गठबंधन दिल्ली में भाजपा की राह आसान बनाकर सातों सीटों पर जीत सुनिश्चत करेगा। क्योंकि जनता इस गठजोड़ के पीछे की हकीकत और मजबूरी को समझ गयी है।’’ 
 
उन्होंने इसे बेमेल गठबंधन करार देते हुये कहा कि कांग्रेस के भ्रष्टाचार को कोसते हुये दिल्ली की सत्ता तक पहुंचने वाले आप संयोजक अरविंद केजरीवाल के लिये, अब कांग्रेस की स्वीकार्यता, किसी मजबूरी का ही परिणाम हो सकती है। केजरीवाल और कांग्रेस, दोनों के लिये सियासी वजूद को बचाने की यह मजबूरी, इस चुनाव ने उजागर कर दी है। 
 
भाजपा नेतृत्व द्वारा चांदनी चौक के बजाय पूर्वी दिल्ली से चुनाव लड़ाने की आशंकाओं के सवाल पर डा हर्षवर्धन ने कहा, ‘‘ फिलहाल ऐसा नहीं होने जा रहा, लेकिन अगर सीट बदली तो भी जीत तय है। वैसे भी मोदी सरकार की असाधारण उपलब्धियों ने जब धुर विरोधियों को मिलने पर मजबूर कर दिया हो, ऐसे में भाजपा का कोई भी उम्मीदवार किसी भी सीट से पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिये आश्वस्त है।’’ 
 
बतौर पर्यावरण और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री, देश और दिल्ली के लिये अपनी पांच असाधारण उपलब्धियों के सवाल पर डा. हर्षवर्धन ने कहा कि मौसम के पूर्वानुमान की विश्व में सर्वाधिक उन्नत तकनीक इस्तेमाल करने वाला, भारत दुनिया का चौथा देश हो गया है। 
 
इस तकनीक के लाभ से देश के 4.2 करोड़ किसानों को मोबाइल फोन के माध्यम से जोड़ने वाला सबसे बड़ा देश भारत है। इससे सकल घरेलू उत्पाद में कृषि उत्पादन का 2015 में योगदान 50 हजार करोड़ रुपये हो गया था। इसके ताजा आंकड़ों का विश्लेषण जारी है। 
 
इसी प्रकार भारत, एकमात्र देश है जिसने सुनामी से आगाह करने वाली ‘त्वरित चेतावनी प्रणाली’ को लागू किया है। इसका लाभ अन्य तटवर्ती देश भी उठा रहे हैं।
 
डा. हर्षवर्धन ने कहा, जहां तक दिल्ली का सवाल है तो, जनसामान्य की सेहत से जुड़े ‘ओपन जिम’ की संकल्पना से चांदनी चौक ने पूरे देश को अवगत कराया। चांदनी चौक, देश में सर्वाधिक 200 ‘ओपन जिम’ वाला एकमात्र लोकसभा क्षेत्र है।
 
 
 

DO NOT MISS