Elections

कांग्रेस ने उठाए EC के निष्पक्षता पर सवाल, चुनाव आयुक्त ने दिया करारा जवाब

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चार राज्यों में विधानसभा चुनाव का ऐलान कर दिया है. राजस्थान , मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़ और मजोरम में एक साथ चुनाव कराए जाएंगे.  जबकि 12 अक्टूबर को तेलगांना में चुनाव की तारीखों का ऐलान होगा. चुनाव आयोग के इस घोषणा के बाद आज से ही इन राज्यों में चुनाव आचार सहिंता लागू हो गई है. 

वहीं चुनाव तारिखों के ऐलान  के वक्त में बदलाव पर कांग्रेस ने सावल उठाए हैं. कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर चुनाव आयोग की स्वत्रंता को लेकर सावल उठाए है. इसपर चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस का वक्त बदलने पर सफाई भी दी. मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा- जरूरी तैयारियों के चलते हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में देरी हुई. मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा राजनेता राजनीतिक प्रचारक कर रही है. वह सब बातों का राजनीतिकरण करते हैं. 

बता दें कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने आयोग के निष्पक्षता पर सवाल उठाते हुए ट्वीट में लिखा है कि चुनाव आयोग ने पांच राज्यों की चुनावी तारीख के लिए 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी. राजस्थान के अजमेर में दोपहर 1 बजे पीएम मोदी की रैली है. चुनाव आयोग ने अचानक वक्त बदल दिया है और प्रेस कॉन्फ्रेंस 3 बजे होगी. चुनाव आयोग की स्वतंत्रता?'

मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा कि 11 दिसंबर को पांचो राज्य के नतीजे आएंगे. उन्होंने बताया कि इन पांचो में आधुनिक ईवीएम और वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा. साथ ही मतदान की वीडियो ग्राफी भी काराई जाएगी. 

छत्तीसगढ़ में पहले चरण का मतदान 12 नवंबर को होगा. 23 अक्टूबर को नामांकन की आखिरी तारीख है जबकि स्क्रूटनी 24 अक्टूबर को होगी. इस चरण में 18 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा. दूसरे चरण का मतदान 20 नवंबर को होगा.  राजस्थान में भी एक चरण में 7 दिसंबर को चुनाव होगा.  उत्तर पूर्वी राज्य मिजोरम में मध्यप्रदेश के साथ 28 दिसबंर को वोट डाले जाएंगे .

DO NOT MISS