Elections

ममता बनर्जी बंगाल में लोकतंत्र को कुचलने की कोशिश में जुटी हैं : PM नरेंद्र मोदी

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

दुर्गापुर- तृणमूल कांग्रेस पर करारा प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को उस पर राज्य के मध्य आय वर्ग के लोगों की आकांक्षाओं की हत्या करने का आरोप लगाया और कहा कि पश्चिम बंगाल की सत्तारुढ़ पार्टी तीन ‘टी’-- तृणमूल टोलाबाजी टैक्स के लिए जानी जाती है।

स्थानीय बोलचाल में टोलाबजी का मतलब संगठित तरीके से जबरन वसूली का अपराध होता है।

मोदी ने शनिवार को औद्यागिक शहर दुर्गापुर में भाजपा की एक रैली को संबोधित करते हुए यह आरोप भी लगाया कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लोकतंत्र को कुचलने के लिए पिछली कम्युनिस्ट सरकार के रास्ते पर चल रही हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हें पता होना चाहिए कि यह तब भी काम नहीं आया था और अब भी काम नहीं आएगा।

उन्होंने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस लोगों के सपनों को कुचल रही है लेकिन केंद्र उनके सपनों को पूरा करेगा।’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा कि संसद में कल पेश अंतरिम बजट भाजपा सरकार की ‘सबका साथ सबका विकास’ नीति का परिचायक है।

मोदी ने आयकर छूट, बैंक सावधि पर टीडीएस, द्वितीय संपत्ति से कमाई जैसे विषयों पर भी अपनी बात रखी और कहा कि इनसे भी मध्यवर्ग लाभान्वित होगा।

उन्होंने कहा कि केंद्र ने राज्य के लिए पिछले साढ़े चार सालों में 90,000 करोड़ रुपये की बुनियादी ढांचा परियोजनाएं मंजूर की हैं लेकिन तृणमूल कांग्रेस सरकार ने उन्हें लागू करने में कोई दिलचस्पी नहीं ली, क्योंकि वह ‘‘सिंडीकेट’’ के लिए हिस्सा चाहती है।

उन्होंने कहा, ‘‘जहां कहीं भी सिंडिकेट के लिए हिस्सा नहीं होता है....जहां कोई मलाई नहीं होती है, वहां तृणमूल कांग्रेस विकास परियोजनाएं शुरु करने में कोई दिलचस्पी नहीं लेती है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘स्कूलों और कॉलेजों में दाखिले से लेकर शैक्षणिक संस्थानों में नौकरियों और अन्यत्र भी व्यक्ति को काम कराने के लिए ‘तीन टी’ का भुगतान करना होता है। लेकिन ऐसा हमेशा नहीं चल सकता।’’ 

मोदी ने कहा, ‘‘हम राज्य के लोगों को जगाई मधाई, तृणमूल कांग्रेस के सिंडीकेट राज से मुक्त कराने के लिए पूरी तरह उनके साथ हैं।’’ 

16 वीं सदी में जगाई और मधाई दो भाई थे जो शुरु में संत श्री चैतन्य महाप्रभु के विरुद्ध थे लेकिन बाद में वे उनके कट्टर अनुयायी हो गये।

तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के साथ हिंसक टकराव के बीच भाजपा कार्यकर्ताओं की बहादुरी की प्रशंसा करते हुए मोदी ने कहा कि उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा क्योंकि तृणमूल सरकार के दिन गिनती के रह गये हैं। 
 

DO NOT MISS